नई दिल्ली, एजेंसी। उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों पर हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में ठंड काफी बढ़ गई है। पिछले कुछ दिन रात के समय शीतलहर से राहत मिली थी, लेकिन मंगलवार रात को एक बार फिर तेज ठंडी हवाओं से आदमी कांपने लगा। वहीं, मौसम विभाग की मानें तो 22 जनवरी तक हालात ऐसा ही रहेंगे। अभी दिन का तापमान सामान्य से करीब 4 डिग्री नीचे चल रहा है और राजधानी दिल्ली में यह गिरकर 3 डिग्री तक जा सकता है। बताया गया कि उत्तर पश्चिम से ठंडी हवाएं भी उत्तर भारत में दस्तक देंगी, जिसके चलते रात का तापमान और नीचे जाएगा।

इससे पहले, आईएमडी ने 13-15 जनवरी तक शीत लहर के बारे में चेतावनी जारी की थी, हालांकि, अब मौसम विभाग ने 22 जनवरी तक समय बढ़ा दिया है। बताया गया कि मंगलवार से हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और उत्तराखंड जैसे उत्तरी राज्यों में घना कोहरा छा सकता है। इसके अलावा, इससे गर्म दिन और अधिक ठंडी रातें होंगी।

उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार जैसे राज्यों में ठंड का मौसम जारी रहने की संभावना है क्योंकि तापमान सामान्य सीमा से नीचे चला जाएगा। जबकि, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ हिस्सों, राजस्थान, हरियाणा, उत्तराखंड, बिहार और उप-हिमालयी क्षेत्रों जैसे राज्यों में घने कोहरे की संभावना है।

मौसम की जानकारी देने वाली संस्था स्काइमेट के मुताबिक, आने वाले 24 घंटों में पूर्वी असम, अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड के उत्तरी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। अरुणाचल प्रदेश के ऊंचाई वालों इलाकों में एक-दो स्थानों पर हल्की बर्फबारी की भी संभावना है।

वहीं, जैसे आईएमडी ने घने कोहरे को लेकर चेतावनी दी, वैसे ही स्काइमेट ने बताया कि पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में घना कोहरा छाए रहने की संभावना है। इसके अलावा उत्तर-पश्चिम भारत में पंजाब से लेकर गंगा के मैदानी क्षेत्रों खासकर उत्तर प्रदेश में हवाओं का प्रभाव बढ़ेगा, जिससे तापमान नीचे जा सकता है।

उत्तराखंड में बर्फ जमी, कश्मीर में भी आशंका

बता दें कि केदारनाथ धाम में बर्फबारी की वजह से तीन फीट तक बर्फ जमी हुई है। बर्फ की सफेद चादर से धाम का नजारा भव्य हो गया है। उत्तराखंड के पहाड़ों में शीतलहर का प्रकोप बढ़ गया है। वहीं, इसके अलावा कश्मीर में भी शीत लहर का दौर जारी है और मौसम विभाग के अनुसार, जल्द यहां ताजा बर्फबारी होनी है।

ट्रेंनों के संचालन में देरी

उत्तर रेलवे (एनआर), मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) ने बताया कि कोहरे के कारण कम विजिबिलिटी हो गई है, जिसकी वजह से 20 जनवरी को 13 ट्रेनें देरी से चल रही हैं।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप