नई दिल्ली, प्रेट्र। उत्तर भारत के मैदानी इलाकों को अभी कम से कम चार दिन और शीत लहर से राहत नहीं मिलने वाली। मंगलवार को ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए भारतीय मौसमविज्ञान विभाग (आइएमडी) ने इन क्षेत्रों में शीत लहर चलने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने तमिलनाडु और पुडुचेरी के लिए भी ऐसा ही अलर्ट जारी करते हुए भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है। आइएमडी ने कहा, 'शुष्क उत्तरी/ उत्तर-पश्चिमी हवाओं के चलते उत्तर-पश्चिम भारत के ज्यादातर हिस्सों में अगले चार-पांच दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे रहने की संभावना है जिससे पंजाब, हरियाणा के कुछ हिस्सों, चंडीगढ़, और दिल्ली, उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड में अगले तीन दिनों तक शीतलहर चलने की आशंका है।

विभाग के मुताबिक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के कुछ हिस्सों में तथा उत्तर प्रदेश, उत्तरी मध्यप्रदेश एवं राजस्थान में छिटपुट स्थानों पर अगले तीन दिन शीत लहर/तेज शीतलहर चलने की संभावना है।उत्तर पश्चिम क्षेत्र में अगले चार-पांच दिनों तक घना और अत्यधिक घना कोहरा छाया रहेगा। विभाग ने 13 से 16 जनवरी तक पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के लिए और 13 जनवरी को राजस्थान के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। ऑरेंज अलर्ट का मतलब होता है कि खतरे की पूरी संभावना है और संबंधित विभाग उसका सामना करने के लिए तैयार रहें। कोमोरिन क्षेत्र में चक्रवात के प्रभाव से तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल, माहे और लक्षद्वीप में अगले दो-तीन दिन वर्षा होने की संभावना है। कोरोरिन क्षेत्र तमिलनाडु के दक्षिणी भाग यानी कन्याकुमारी जिले के कुछ क्षेत्रों के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

दिल्ली, सहित इन राज्यों में 2 से 4 डिग्री तक गिरेगा पारा

पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश व उत्तर भारत के अन्य इलाकों में अगले 3 दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान 2 से 4 डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक, इस दौरान इन इलाकों में घना कोहरा भी छाया रह सकता है।

यूपी में अगले दो-तीन दिन में कड़ाके की सर्दी के लिए अलर्ट

पहाड़ों पर भीषण बर्फबारी के चलते शीतलहर का प्रकोप जारी है। उत्तर की बर्फीली हवा ने अपना असर दिखाया। हाड़ कंपाने वाली ठंड की चपेट में पूरा उत्तर प्रदेश आ चुका है। सर्द हवाओं ने गलन काफी बढ़ा दी है। कोहरे की घनी चादर ने मंगलवार को सुबह देर से होने दी। कोहरा, सामान्य से तेज हवा और देर से निकली धूप ने पारा और तापमान गिरा दिया। मौसम विभाग ने अगले दो से तीन दिन में कड़ाके की सर्दी का अलर्ट जारी किया है।

अगले 24 घंटे के लिए घाटी में येलो अलर्ट

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में कई इलाकों के लिए येलो अलर्ट जारी किए हैं। कश्मीर के श्रीनगर में तापमान शून्य से 0.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया जो कि पिछले रात शून्य से 2.6 डिग्री सेल्सियस नीचे से ज्यादा है। घाटी में लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिली है क्योंकि ज्यादातर स्थानों पर न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। वहीं, गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य से 9.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। यह घाटी का सबसे ठंडा स्थान रहा।

दक्षिण भारत के राज्यों में भारी बारिश के आसार

एक तरफ जहां उत्तर भारत में शीतलहर अपना प्रकोप दिखाएगा तो वहीं, दक्षिण में बारिश लोगों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। क्षेत्रीय मौसम विभाग चेन्नै के मुताबिक, 15 जनवरी तक बारिश, ओले गिरने और ब वज्रपात की आशंका है। मौसम विभाग के मुताबिक, ऐसा बंगाल की खाड़ी के ऊपर श्रीलंका तट से दूर साइक्लोनिक सर्कुलेशन के कारण होगा। जिसकी वजह से तमिलनाडु, पुदुचेरी, कराईकल, माहे और केरल में इस दौरान जमकर बारिश होगी।

इसलिए उत्तर भारत में पड़ रही कड़ाके की ठंड

बीते सप्ताह पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश में कई क्षेत्रों में गंभीर बर्फबारी हुई जिससे सामान्य जन-जीवन काफी प्रभावित हुआ। कई स्थानों पर हवाई और सड़क यातायात भी बुरी तरह प्रभावित हुए। ठंड और शुष्क हवाओं के प्रसार के कारण न्यूनतम तापमान धीरे-धीरे उत्तर और उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में और गिरेगा। ऐसे में 15 जनवरी तक पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर-पश्चिम उत्तर प्रदेश और राजस्थान के अलग-अलग स्थानों पर कड़ाके की ठंड पड़ सकती है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021