बेंगलोर, आइएएनएस। कर्नाटक के बेंगलुरु में व्यस्त रहने वाले विल्सन गार्डन इलाके के पास लक्कासंद्रा में सोमवार को एक तीन मंजिला इमारत ढह गई। अच्छी बात यह रही कि इमारत में रहने वाले 50 लोगों में से अधिकांश काम करने के लिए बाहर गए थे। पुलिस के मुताबिक, इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

दमकल और आपातकालीन सेवा के कर्मी बचाव अभियान के लिए मौके पर पहुंच गए। वहां रहने वाले मजदूर बिहार और उत्तर प्रदेश से आए थे और मेट्रो प्रोजेक्ट में काम करते हैं। उनमें से ज्यादातर काम पर गए थे जब इमारत गिरी। चश्मदीदों ने कहा कि इमारत में मौजूद कुछ लोग इमारत के हिलने-डुलने पर बाहर आने में कामयाब रहे।

स्थानीय भाजपा विधायक उदय बी गरुड़चार ने कहा कि इमारत अनधिकृत थी और नियमों के उल्लंघन कर बनाई गई थी। पुलिस ने जानकारी दी है कि इस घटना में न तो कोई घायल हुआ है और न ही कोई मारा गया है। उन्होंने कहा, 'मैं मौके पर जा रहा हूं। सभी मजदूर काम पर गए थे, अगर रात में होता तो क्या हाल होता।' स्थानीय लोगों ने बताया कि दो साल से इमारत थोड़ी झुकी हुई थी लेकिन नगर निकाय के किसी अधिकारी ने इसकी परवाह नहीं की। उन्होंने इमारत की स्थिति के बारे में हमारी शिकायतों की अनदेखी की।

Edited By: Nitin Arora