जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। सरकारी कामकाज में डिजिटल माध्यम का प्रयोग जरूरी बनाने से पारदर्शिता बढ़ेगी। परिसर की स्वच्छता के साथ कार्य प्रणाली में पारदर्शिता जरूरी है। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह ने कृषि भवन में स्थित अपने मंत्रालय के सभी विभागों का दौरा कर स्वच्छता का मुआयना किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की कुशल कार्य क्षमता एवं स्वास्थ्य के लिए स्वच्छता अहम है। स्वच्छता सरकार की उच्च प्राथमिकता में है। टेक्नोलाजी और इंटरनेट के अधिकतम प्रयोग से कार्यालयों के कामकाज में कागज का उपयोग नहीं होना चाहिए।

आफिसों में पड़े गैरजरूरी दस्तावेज हटाने को कहा

सिंह ने आफिस मैनेजमेंट में ई-फाइलिंग सिस्टम को बढ़ावा देने की जरूरत पर बल दिया और आफिसों में पड़े गैरजरूरी दस्तावेज हटाने को कहा। साथ ही लाइब्रेरी की 30 हजार से अधिक किताबों को डिजिटालाइज करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कार्यालयी कामकाज में फाइलों पर नोट लगाने का शत प्रतिशत काम ई-फाइल मैनेजमेंट के माध्यम से होना चाहिए।

कैबिनेट से जुड़े कार्यों को शीघ्रातिशीघ्र निपटानें का दिया निर्देश

उधर, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने भी अपने सहयोगी अफसरों के साथ कृषि भवन परिसर में सफाई व्यवस्था का जायजा लेने के बाद अपने मंत्रालय के अफसरों व कर्मचारियों से कहा कि वे स्वच्छता संबंधी सारे कामकाज समयबद्ध तरीके से निपटाएं। उन्होंने कहा कि स्वच्छता स्वभाव और संस्कार में होनी चाहिए। उन्होंने निर्देश दिया कि कार्यालयों के लंबित कार्यों के साथ संसदीय कामकाज, आरटीआइ और कैबिनेट से जुड़े कार्यों को शीघ्रातिशीघ्र निपटाएं।