अमरावती, प्रेट्र। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और उनके परिवार के सदस्यों ने गुरुवार को आंध्र प्रदेश के श्रीसैलम में भ्रमराम्बा मल्लिकार्जुन स्वामी मंदिर में पूजा-अर्चना की। श्रीसैलम 12 ज्योतिìलगों में से एक होने के साथ ही 18 शक्तिपीठों में से भी एक है। गृह मंत्री और उनके परिवार के सदस्यों को पारंपरिक सम्मान 'पूर्ण कुंभम' के साथ मंदिर ले जाया गया।

राज्य के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग ने बताया कि पूजा के बाद वैदिक पुजारियों ने अमित शाह को आशीर्वाद दिया। बाद में गृह मंत्री ने मंदिर मार्ग पर अर्जुन का पौधा लगाया। मुख्य सचिव (राजस्व-बंदोबस्ती) जी. वाणी मोहन ने मेहमान श्रद्धालुओं को वे प्राचीन ग्रंथ दिखाए जो देवस्थनम में एक मठ के जीर्णोद्धार के दौरान मिले थे। उन्होंने मंदिर के ऐतिहासिक महत्व को भी बताया।

इससे पहले शाह हेलीकाप्टर से हैदराबाद पहुंचे और वहां से मंदिर के लिए रवाना हुए। राज्य के धर्मार्थ मामलों के मंत्री वी. श्रीनिवास राव, सांसद पी. ब्रह्मानंद रेड्डी, कर्नूल के जिला कलेक्टर पी. कोटेश्वर राव और वरिष्ठ अधिकारियों ने सुन्नीपेंटा हेलीपैड पर उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद गृह मंत्री दोपहर में हैदराबाद लौट गए।