बालाघाट (नईदुनिया)। मध्य प्रदेश के बालाघाट के हट्टा डूंडासिवनी गांव में पिता को निकालने के लिए दो बेटियां कुएं में उतर गईं। दुर्भाग्य बस, जहरीली गैस से तीनों की मौत हो गई। सोमवार सुबह करीब नौ बजे डूंडासिवनी निवासी गणेश राऊत (50), अपनी बेटियों बबीता (22) व सविता (19) के साथ धान की रोपाई के लिए खेत पर गए थे। दोपहर 12 बजे खाना खाने के बाद गणेश अपने साथियों के साथ कुएं पर पानी लेने गए। रस्सी न होने पर तार के टुकड़े जोड़कर उससे पानी निकालने की कोशिश की, लेकिन इस दौरान उसका बर्तन कुएं में गिर गया।

अपने बर्तन को निकालने के लिए गणेश कुएं में उतर गए और जहरीली गैस के प्रभाव में आकर बहोश हो गए। यह देखकर उनके साथी मौके से भाग गए। जब गणेश की बेटियों को इसका पता चला तो बबीता पिता को निकालने कुएं में उतरी। जब वह बाहर नहीं आई तो सविता भी कुएं में उतर गई। जहरीली गैस के कारण तीनों की मौत हो गई।

Posted By: Nancy Bajpai