इंदौर, जेएनएन। मध्य प्रदेश में उज्जैन जिले के नागदा जंक्शन कस्बे में चरित्र पर शंका को लेकर मंगलवार को महिला पर पति, सास-ससुर व एक अन्य महिला रिश्तेदार ने तलवार से हमला कर दिया था। महिला को कमरे में बंद कर उसकी नाक, जीभ और स्तन काट दिए। पुलिस ने बुधवार को ससुर व मौसी सास को गिरफ्तार कर लिया है। इन्हें न्यायालय में पेश किया गया, जहां से जेल भेजने के आदेश दिए गए हैं।

महिला की हालत नाजुक

महिला का गंभीर अवस्था में इंदौर के महाराजा यशवंतराव अस्पताल में उपचार चल रहा है। नागदा पुलिस के मुताबिक मंगलवार सुबह राधाबाई को पति राजेश चंद्रवंशी, ससुर सीताराम, सास गेंदाबाई, मौसी सास कलाबाई ने कमरे में बंद किया और उस पर तलवार से हमला कर दिया। आरोपितों ने उनके मुंह में बेलन भी ठूंस दिया, ताकि वह चिल्ला नहीं पाए। इसके बाद घायल अवस्था में उनको घर के बाहर फेंक दिया।

दो गिरफ्तार

प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक, वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित फरार हो गए। पुलिस को सूचना मिली तो राधाबाई को गंभीर हालत में इंदौर रेफर किया गया। पुलिस ने राजेश, सीताराम, गेंदाबाई, कलाबाई के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर सीताराम व कलाबाई को गिरफ्तार कर लिया है।

15 साल पहले हुई थी शादी

घायल महिला की शादी राजेश से 15 साल पहले हुई थी। उसके दो बेटे हैं। राजेश ट्रक चालक है तथा अधिकांश समय घर से बाहर रहता है। चरित्र शंका में परिवार में कई दिनों से विवाद चल रहा था। पूर्व में महिला ने पति के खिलाफ बिरलाग्राम थाने में मारपीट की शिकायत भी दर्ज कराई थी।

सीधी जिले में भी हुई थी जघन्‍य वारदात 

बीते दिनों ऐसी ही एक वारदात मध्य प्रदेश के सीधी जिले में हुई थी। सीधी जिले के एक गांव में चार लोगों ने महिला से सामूहिक दुष्कर्म करके और उसके प्राइवेट पार्ट में लोहे का सरिया डाल दिया था। निजी अंग में सरिया डाले जाने से पी‍ड़ि‍ता की आंत में गंभीर चोटें आई थीं। कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने पीड़ि‍ता को एक और निर्भया बताया था। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा था... 'एक और निर्भया! कब तक सहेंगे नारी पर वार।'  

जहरीली शराब कांड में डीएम और पुलिस अधीक्षक हटाए गए 

वहीं राज्य सरकार ने मुरैना जिले में कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से 20 लोगों की मौत के मामले में बुधवार को जांच के लिए गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजेश राजौरा की अध्यक्षता में अधिकारियों की चार सदस्यीय समिति का गठन कर दिया। यही नहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना के जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को हटाने का निर्देश दिया है।  

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021