कोलकाता [जागरण संवाददाता]। विभिन्न मुद्दों पर केंद्र सरकार के खिलाफ टकराव का रुख अपनाती रही और गत वर्ष संप्रग का दामन छोड़ने के बाद तृणमूल अब आर-पार की लड़ाई के मूड में है। पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व रेलमंत्री मुकुल राय ने मनमोहन सरकार को अल्पमत में बताते हुए इसके अविलंब इस्तीफे की मांग की है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के काफी विश्वस्त समझे जाने वाले मुकुल राय ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि संप्रग सरकार अल्पमत में है। संसद में नंबरों के जोड़-तोड़ से ही वह बनी रहना चाहती है। जब पिछले साल हमने सरकार से समर्थन वापस ले लिया था, तभी वह अल्पमत में आ गई थी। सरकार को अब सत्ता में एक पल के लिए भी बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है।

उल्लेखनीय है कि हाल में श्रीलंकाई तमिलों के मुद्दे पर केंद्र पर दबाव बनाते हुए संप्रग की सहयोगी द्रमुक के समर्थन वापसी के बाद ममता बनर्जी के उस बयान से उम्मीद जगी थी, जिसमें उन्होंने सरकार का साथ देने की बात कही थी, लेकिन मुकुल के तेवर ने उसे धू्मिल कर दिया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस