आगरा। लव जिहाद के खिलाफ राष्ट्रीय स्वंमसेवक संघ की शाखा हिंदू जागरण मंच 15 जुलाई से राज्यभर में हिंदु युवती बचाओ कैंपेन की शुरूआत करने जा रही है। इस कैंपेन के अंतर्गत मंच के स्वंमसेवक स्कूलों में जाकर मुस्लिम युवकों से शादी करने के दुष्परिणामों के बारे में जानकारी देंगे।

हिंदू जागरण मंच के सदस्य एक पर्चा भी बांट रहे हैं जिसमें बताया जा रहा है कि लव जिहाद के जरिए भारत को इस्लामिक देश बनाने की साजिश रची जा रही है। इसमें ये भी कहा गया है कि अपने प्रेमी के वोटर आईडी कार्य या आधार कार्ड की जांच करो, उसे मंदिर ले जाओ और देखो की वो प्रशाद लेता है या नहीं?

पर्चे में हिंदू महिलाओं को ये चेतावनी भी दी गई है कि अगर वो मुस्लिम से शादी करती हैं तो उन्हें तलाक या बहुविवाह का भी सामना करना पड़ सकता है। पर्चे में ये भी लिखा है कि मुस्लिम युवक से शादी करने पर उनकी आजादी छिन जाएगी और वो अपनी मर्जी के कपड़े तक नहीं पहन पाएंगी, उन्हें मांस पकाना पड़ेगा और वो सिर्फ एक बच्चा पैदा करने की मशीन बनकर रह जाएंगी।

इस मुहिम को लेकर आरएसएस के प्रवक्ता केशवजी ने कहा कि हिंदू जागरण मंच उनका सहयोगी है और वो इस तरह के कार्यक्रमों के लिए आरएसएस से अनुमति नहीं लेता। सर्वदलीय मुस्लिम संघर्ष समिति के नेता अदनान कुरैशी ने इसे आगामी चुनाव के लिए आरएसएस और भाजपा द्वारा चलाई गई चाल करार दिया है।

पढ़ें- 'लव जिहाद' की शिकार पीड़िता ने जब कोर्ट में सुनाई अपनी दर्द भरी दास्तान...

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप