बेंगलुरू, एएनआइ। पुलवामा में आतंकी हमले की बरसी पर कर्नाटक के हुबली में तीन कश्मीरी छात्रों के पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने का मामला सामने आया है। विडियो वायरल होने पर नाराज लोगों ने कश्‍मीरी छात्रों की पिटाई की। बाद में पुलिस ने इन छात्रों को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले पर हुबली-धारवाड़ के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि जब हमें जानकारी मिली, तो हमने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और पुलिस स्टेशन ले आए। उनके कॉलेज ने भी शिकायत दर्ज कराई है। हम मामले की जांच करेंगे और उचित कार्रवाई करेंगे। अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

ये है मामला

कर्नाटक के हुबली में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने तीन कश्मीरी छात्रों की धुनाई कर दी। ये तीनों छात्र पुलवामा में आतंकी हमले की बरसी पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे, जिसका वीडियो वायरल हो गया। ये वहां के केएलई इंजिनियरिंग कॉलेज में पढ़ते हैं। वॉट्सऐप पर विडियो आने के बाद लोगों ने कॉलेज में घुसकर छात्रों की पिटाई की। पुलिस ने तीनों को हिरासत में ले लिया है।

वीडियो हुआ वायरल

तीनों के नाम आमिर, बासित और तालिब हैं। पुलिस के मुताबिक ये इंजीनियरिंग कॉलेज में दि्वतीय वर्ष के छात्र हैं और तीनों होस्टल में रहते हैं। जो विडियो सामने आया है उसमें ये तीनों अपना नाम बता रहे हैं। बैकग्राउंड में गाना बज रहा है कि खाई है ये कसम, खाई है ये कसम, सुन ले दुश्मन सभी, है ये दिल की सदा.. पाकिस्तान जिंदाबाद, पाकिस्तान जिंदाबाद।

विडियो में बीच-बीच में एक छात्र आजादी के नारे भी लगाते सुना जा सकता है। विडियो वायरल होते ही पुलिस ने तीनों को हिरासत में ले लिया। हालांकि एक हिंदू संगठन से जुड़े लोगों ने पुलिस के कब्जे से छुड़ाकर तीनों आरोपियों को पीटने की कोशिश की। 

पुलवामा आतंकी हमले की पहली बरसी 

14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले की पहली बरसी थी। एक साल पहले 14 फरवरी को जम्मू से कश्मीर जा रहे सीआरपीएफ के काफिले पर आत्‍मघाती हमलावर ने बम से हमला किया था जिसमें 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। ऐसे मौके पर जब पूरा देश जवानों की की शहादत के गम में डूबा था, तब इस हमले के गुनहगार पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाना हुबली के लोगों और छात्रों को नागवार गुजरा। सोशल मीडिया पर भी लोग गुस्से का इजहार कर रहे हैं। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस