हैदराबाद, एजेंसियां। ट्रैफिक पुलिस से बचने के लिए या फिर पार्किंग शुल्क और तो और टोल टैक्स भी बचाने के लिए कई लोग अपने वाहन पर पुलिस, प्रेस, जज, MLA स्टिकर तक का उपयोग करते हैं। देखा जाए तो यह बहुत आम हो चला है। हालांकि, अब इससे मिलता जुलता एक मामला हैदराबाद से सामने आया है। यहां के एक निवासी ने जो किया, उसे देख पुलिस भी दंग रह गई। 

कार के मालिक ने 'AP CM Jagan' को स्टिकर के रूप में नहीं बल्कि अपने वाहन के आगे और पीछे के हिस्से में नंबर प्लेटों के स्थान पर लोहे की प्लेट के रूप में प्रदर्शित किया हुआ था। बता दें कि 19 अक्टूबर को हैदराबाद के जीदीमेतला में यातायात पुलिस द्वारा वाहनों की नियमित जाँच के दौरान इसका पता लगाया गया था। यह घटना मंगलवार को सामने आई।

आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के मूल निवासी हरि राकेश ने पुलिस को बताया कि उन्होंने ट्रैफिक पुलिस द्वारा चेकिंग के भुगतान से छूट पाने और टोल टैक्स पर पैसे ना देने के लिए ऐसा किया। अब जहां पुलिस ने कार को जब्त कर लिया और राकेश के खिलाफ आईपीसी सेक्शन 420 (ठगी) और 210 (धोखा) के तहत जैदीमेटला पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया।

हैदराबाद ट्रैफिक पुलिस की वेबसाइट के अनुसार, नंबर प्लेट पर फैंसी शब्दों से लिखा हुआ, नाम, चित्र और किसी प्रकार की कोई कला प्रदर्शित नहीं होनी चाहिए, क्योंकि यह मोटर वाहन अधिनियम का उल्लंघन होगा। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (यातायात) अनिल कुमार के नेतृत्व वाली हैदराबाद ट्रैफिक पुलिस ने बार-बार जनता को कहा है कि फैंसी नंबर प्लेट वाले वाहनों को जब्त कर लिया जाएगा और मालिकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप