नई दिल्‍ली, माला दीक्षित। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को तेलंगाना एनकाउंटर (Telangana Encounter Case) मामले के लिए रिटायर्ड  जज को नियुक्‍त करने की बात कही। इसके लिए कोर्ट ने पक्षकारों से नाम सुझाने को कहा है। कोर्ट ने बताया कि तेलंगाना एनकाउंटर मामले की जांच के लिए पूर्व सुप्रीम कोर्ट जज को नियुक्‍त किया जाएगा जो दिल्‍ली में बैठकर जांच करेंगे। अगली सुनवाई गुरुवार को की जाएगी।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल हुई है जिसमें तय समय में दया याचिका निपटाने के दिशा-निर्देश मांगे गए हैं। इससे पहले कोर्ट ने कहा था कि तेलंगाना हाईकोर्ट ने पहले ही मामले की सुनवाई पर रोक लगा दी थी।

तेलंगाना में पशु चिकित्‍सक की दुष्‍कर्म व हत्‍या मामले के चार आरोपियों का हैदराबाद पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया। दरअसल, 27 नवंबर को इन चारों ने 25 वर्षीय युवती का दुष्‍कर्म किया ओर हत्‍या कर शव को बुरी तरह जला दिया। इस दृश्‍य को रीक्रिएट करने के लिए चारों आरोपियों के साथ पुलिस मौके पर पहुंची। तभी ये आरोपी वहां से भागने की कोशिश में लग गए। लेकिन तभी पुलिस ने इनपर फायरिंग की और ये चारों मौके पर ही ढेर हो गए।

आज मानवाधिकार दिवस पर एक इवेंट में हैदराबाद मामले पर दुख जताते हुए पूर्व जस्टिस आर एम लोढ़ा ने कहा था कि एक ओर मानवाधिकारों के लिए देश संघर्ष कर रहा है। एनकाउंटर और इस क्राइम को दुखद बताते हुए रिटायर्ड जस्टिस लोढ़ा ने कहा कि ‘क्या हम अराजकता वाले समाज की ओर बढ़ रहे हैं।’

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस