नई दिल्ली, जेएनएन। नई शिक्षा नीति के प्रस्तावित मसौदे पर लोगों की राय जानने के लिए सरकार अब देश भर में एक विशेष अभियान चलाएगी। इसमें सभी उच्च शिक्षण संस्थानों से शैक्षिक समुदाय और आम लोगों के बीच नीति के अहम बिंदुओं पर चर्चा कराने को कहा है।

संस्थानों से इस दौरान आने वाले सुझावों को 22 जुलाई तक देने को कहा गया है। प्रस्तावित नई शिक्षा नीति के मसौदे को लेकर फिलहाल अब तक 50 हजार से ज्यादा सुझाव आ चुके हैं।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने गुरुवार को इसे लेकर विश्वविद्यालय सहित सभी उच्च शिक्षण संस्थानों को निर्देश जारी किया है। सभी उच्च शिक्षण संस्थानों से इनमें बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेने की जरूरत है।

नई शिक्षा नीति के प्रस्तावित मसौदे पर मांगे गए सुझावों की समयसीमा को सरकार ने पिछले दिनों बढ़ाते हुए 31 जुलाई तक देने को कहा है। इससे पहले सुझावों की समयसीमा 30 जून तक तय की गई थी।

 

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस