प्रतापगढ़ [जासं]। पूर्व मंत्री राजा भैया और उनके करीबियों पर आरोप मढ़ते हुए दिवंगत प्रधान नन्हे यादव की मां ने कहा है कि दस साल की पुरानी रंजिश को लेकर उनके दोनों बेटों की हत्या की गई है। उन्होंने सीबीआइ को तहरीर दी है।

प्रधान की मां देवकली, बहन ज्ञानमति व बहू अनारा देवी पत्‍‌नी स्वर्गीय सुरेश कुमार ने कहा है कि अगर 2003 में दुखीराम ने बेती पक्षी विहार में काम के लिए मजदूर न भेजे होते तो उन्हें आज ये दिन न देखने पड़ते। उसी के बाद से उनके परिजनों का उत्पीड़न शुरू हो गया, जो दो मार्च को प्रधान व सुरेश की हत्या के रूप में सामने आया। इसके बाद भी परिवार को बराबर जान से मारने की धमकी दी जा रही है।

ऐसे में राजा भैया और उनके समर्थकों के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की जाए। 28 मार्च को मृतक प्रधान के पिता दुखीराम ने तिहरे हत्याकांड की जांच कर रही सीबीआइ टीम को राजा भैया व उनके समर्थकों पर धमकी देने का आरोप लगाते हुए एक शिकायती पत्र दिया था, लेकिन एक सप्ताह बाद भी सीबीआइ ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। सीबीआइ के इस रवैए से नाराज परिजन छह अप्रैल को अनशन पर भी बैठे थे

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस