नईदुनिया, ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में मोबाइल पर गेम खेल रही 21 वर्षीय छात्रा ने अपनी सहेली को वीडियो कॉल किया। उसको अपने पिता की रिवॉल्वर दिखाकर बोली-इसके चेंबर में एक गोली है, पर मुझे भी नहीं पता वह गोली कहां है।
इसके बाद उसने रिवॉल्वर की घिर्री घुमा दी और अपनी कनपटी पर रख ली। सहेली ने उसे मजाक समझा और रिवॉल्वर से खेलने पर मना किया। एक बार छात्रा ने रिवॉल्वर रख दी, मगर चंद सेकंड बाद फिर उठा ली। इस बार बोली देखते हैं किस्मत में मौत है या नहीं। दिल्ली मेट्रो ट्रेन में सफर कर रही सहेली के मोबाइल का नेटवर्क गड़बड़ हुआ तो कनेक्शन टूट गया।

Image result for रिवॉल्वर कनपटी पर रखकर मारी गोली, मौत
इसी समय छात्रा ने रिवॉल्वर का ट्रिगर दबा दिया। छात्रा के सिर में गोली लगी। सोमवार सुबह आठ बजे छात्रा ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। घटना सात सितंबर दोपहर 12.30 बजे की है। मृतका की हरियाणा निवासी सहेली नजमा ने यह जानकारी दी।

गोला का मंदिर थानाक्षेत्र स्थित नारायण विहार कॉलोनी निवासी अरविंद सिंह यादव सेना से रिटायर्ड सूबेदार हैं। उनकी 21 वर्षीय बेटी करिश्मा ने दिल्ली से बीकॉम किया है। छह सितंबर की शाम अरविंद और उनकी पत्नी चित्रकूट दर्शन करने बुंदेलखंड एक्सप्रेस से निकले थे। उनका बड़ा बेटा शिवम इसी साल आर्मी में भर्ती हुआ है। वह बेटा ड्यूटी पर था।
शुक्रवार सुबह छोटे भाई देव को स्कूल भेजने के बाद करिश्मा घर में अकेली थी। शुक्रवार दोपहर जब करिश्मा का भाई शिवम इटावा होते हुए घर पहुंचा तो दरवाजा अंदर से बंद था। वह दीवार फांदकर अंदर पहुंचा। अंदर उसकी बहन सिर पर तकिया लगाकर खून से सनी बैठी थी। भाई उसे अस्पताल लेकर पहुंचा। वहां पता लगा कि उसे गोली लगी है। यहां इलाज के दौरान सोमवार सुबह करिश्मा ने दम तोड़ दिया।

लास्ट कॉल से मामला हुआ उजागर 
छात्रा के मोबाइल पर लास्ट कॉल वीडियो कॉल था। उस पर कॉल किया तो वह करिश्मा की सहेली नजमा का निकला। नजमा अभी दिल्ली से पढ़ाई कर रही है और करिश्मा ने उसके साथ ही बीकॉम किया है। नजमा ने बताया कि शुक्रवार दोपहर 12.30 बजे उसका कॉल आया था। वह मेट्रो ट्रेन में थी। करिश्मा को ऐसा नहीं करने पर समझाया तो उसने एक बार रिवॉल्वर रख दी।
कुछ देर बाद फिर रिवॉल्वर उठाई और बोली मजाक है पर देखते हैं किस्मत में क्या लिखा है। इसी समय नेटवर्क चला गया। उसके बाद काफी देर तक उसे कॉल किया। इस दौरान एक बार उसने ही कॉल रिसीव कर कहा कि गोली लगी है। करिश्मा के पिता ने बताया कि उनकी ज्यादातर पोस्टिंग मथुरा के पास रही है। वह एनसीसी में भी अपने टॉपर थी। उसी दौरान उसे हथियार चलाने की ट्रेनिंग भी मिली थी।

 

Posted By: Arun Kumar Singh