नई दिल्ली। शीना मर्डर केस में सीबीआई ने चार्जशीट दाखिल की है। इसके साथ ही मामले से जुड़े कई अनछुए पहलू भी सामने आए हैं। पेश हैं सीबीआई की चार्जशीट में दर्ज मामले से जुड़े खुलासेः

  1. शीना बोरा की हत्या के पीछे उसके प्रेम-प्रसंग के साथ ही प्रॉपर्टी विवाद का कारण भी है।
  2. इंद्राणी को लगता था कि शीना का कारण वह पीटर और अपने धन-बल को खो देगी। इंद्राणी को यह भी डर था कि शीना उसकी पिछली जिंदगी सारी दुनिया के सामने ला देगी।
  3. पीटर मुखर्जी इस हत्याकांड में शामिल था, और इसे हत्या के दौरान भी वो इद्राणी के संपर्क में था। पीटर ने अपनी सौतेली बेटी शीना बोरा की हत्या की अहम जानकारी जांच अधिकारियों से छिपाई।
  4. शीना ने अपनी हत्या से कुछ महीने पहले खुद ही पीटर को बता दिया था कि वह इंद्राणी की बहन नहीं, बेटी है। पीटर इस खुलासे से स्तब्ध थे।
  5. संजीव ख्नन्ना-इंद्राणी मुखर्जी की बेटी विधि के संदेशों से साफ है कि राहुल और शीना के संबंधों के लेकर इंद्राणी जरा भी खुश नहीं थी तथा वह किसी एक को रास्ते से हटाना चाहती थी।
  6. 2010 में इंद्राणी ने दक्षिण दिल्ली स्थित वो फ्लैट भी बेच दिया था जो कभी उसने शीना को गिफ्ट किया था। राहुल से रिश्ते का पता चलने के बाद इंद्राणी ने यह कदम उठाया।
  7. इसके बाद शीना इंद्राणी को ब्लैकमेल करने लगी थी। शीना मुंबई में फ्लैट चाहती थी।
  8. शीना इंद्राणी को धमकी देती थी कि उसकी बात नहीं मानी गई तो वह यह राज उजागर कर देगी कि वे आपस में बहनें नहीं, बल्कि मां-बेटी हैं।
  9. हत्याकांड से पहले शीना ने मां-बेटी का रिश्ता साबित करने वाले दस्तावेज सौतेले भाई और प्रेमी राहुल को सौंप दिए थे।
  10. इंद्राणी ने अपने बेटे मिखाइल की मदद से शीना तक यह संदेश भी भिजवाया कि अगर उनसे राहुल से नाता नहीं तोड़ा तो गुवाहाटी वाली प्रॉपर्टी में भी कोई हिस्सा नहीं मिलेगा।
इसके अलावा भी कई खुलासे हुए हैं। खासतौर पर संजीव ख्नन्ना-इंद्राणी मुखर्जी की बेटी विधि और सौतेले बेटे राहुल की बातचीत चौंकाने वाली है। विधि के संदेशों से साफ है कि राहुल और शीना के संबंधों के लेकर इंद्राणी जरा भी खुश नहीं थी तथा वह किसी एक को रास्ते से हटाना चाहती थी।

सीबीआई ने मुखर्जी परिवार के सदस्यों के बीच हुई बातचीत और ईमेल का विस्तृत ब्योरा पेश किया है। इससे साफ है कि परिवार के सदस्यों को इंद्राणी के मंसूबों के बारे में जानकारी थी।

विधि को पता चल गया था कि इंद्राणी कुछ बुरा करने वाली है। उसने राहुल को एक मैसेज लिखा था, 'यह बात तुम्हारे और मेरे बीच ही रहना चाहिए...तुम दोनों को बहुत सावधान रहने चाहिए, क्योंकि ममा बहुत परेशान है। मैं तुम दोनों को बस चेतावनी दे रही हूं...सावधान रहना...कुछ भी हो सकता है...यह बीत किसी से मत कहना...ममा कहती है...वो तुम्हारा (राहुल-शीना) संबंध ही नहीं तोड़ेगी, तुम दोनों से किसी एक को रास्ते से ही हटा देगी...मैंने ऐसे बात सुनी है। प्लीस रिप्लाय बैक।'

अप्रैल 2012 में इंद्राणी ने पूर्व पति संजीव खन्ना और ड्राइवर श्याम राय के साथ मिलकर 24 वर्षीया शीना की हत्या की थी और शव को रायगढ़ जिले के जंगल में फेंक दिया था। अगस्त 2015 में एक दूसरे मामले में गिरफ्तार श्याम राय ने पूछताछ में हत्या का खुलासा किया।

इसके बाद जंगल से शीना का अवशेष बरामद किया गया था। अवशेष शीना के होने की पुष्टि के लिए पुलिस ने फोरेंसिक विशेषज्ञों की मदद ली।दक्षिण मुंबई की अदालत में मजिस्ट्रेट आरवी एडोन के सामने पेश एक हजार पृष्ठों से ज्यादा के आरोप पत्र में 150 से अधिक गवाहों के बयान, 200 दस्तावेज शामिल हैं।

पढ़ेंः पीटर से नजदीकियां बनीं शीना की हत्या की वजह

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra