नई दिल्ली, एजेंसी। दिल्ली--एनसीआर में दूसरे दिन भी मूसलधार बारिश हुई। 24 घंटे में करीब दो इंच वर्षा रिकॉर्ड की गई, लेकिन जल निकासी नहीं होने से जगह--जगह जलजमाव हुआ। ट्रैफिक थम--सा गया। उत्‍तर प्रदेश के भी कई शहरों में भारी बारिश से जनजीवन पर असर पड़ा। राज्य में बारिश के कारण हादसों मे 27 लोगों की मौत हो गई।

दिल्ली व आसपास के क्षेत्रों में गुरवार रात से लेकर सुबह तक झमाझम बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार चौबीस घंटे में 45.8 एमएम पानी गिरा। यह दो इंच से कुछ कम है। बारिश से घुली ठंडक के कारण तापमान लुढ़क कर सामान्य से दो डिग्री नीचे 28 पर आ गया। बारिश के कारण दिल्ली एनसीआर का ट्रैफिक अस्त--व्यस्त हो गया। दिल्ली--नोएडा के बीच भी लंबा जाम लगा।

मथुरा में आठ इंच बारिश उप्र के भी कई शहरों में दूसरे दिन भी भारी बारिश हुई। मथुरा में सर्वाधिक करीब आठ इंच, कासगंज में सात, अलीगढ़ में पांच, गौतम बुद्ध नगर में चार और बाराबंकी, बदायूं, सहारनपुर, फिरोजाबाद में तीन--तीन इंच वषर्षा दर्ज की गई। राज्य के विभिन्न जिलों में 27 लोगों की वर्षाजन्य हादसों में मौत हो गई। गाजियाबाद के वसुंधरा, खो़ड़ा, ग्रेटर नोएडा में बारिश का सर्वाधिक असर पड़ा। एनएच--24, एनएच--58, एनएच 91 व नवनिर्मित राज नगर एक्सटेंशन एलिवेटेड रोड आदि पर ट्रैफिक ठप हो गया।

हरियाणा ने छोड़ा पानी

शुक्रवार सुबह 7 बजे हरियाणा के हथिनी कुंड बराज से यमुना में 1,15,000 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इससे दिल्ली में यमुना का जलस्तर 203.83 मीटर तक पहुंच गया। यह खतरे के निशान 204 मीटर से केवल 17 सेमी कम है। हिमाचल-उत्तराखंड में बादल फटे। उधर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बादल फटने की घटनाएं लगातार हो रही हैं। हिमाचल के सोलन, बिलासपुर व मनमोहन सिंह जिले में बहुत भारी बारिश हुई। मंडी के गोहर में सर्वाधिक 8 इंच वर्षा हुई। सोलन में चार, सुंदरनगर में करीब तीन, मंडी में दो, कुफ्री में दो, शिमला में दो इंच वर्षा दर्ज की गई। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में तो काली नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। सभी इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

रेलवे ट्रैक की मिट्टी धंसी,  बंगाल में ट्रेनों पर असर

कोलकाता। भारी वर्षा के कारण पूर्वी रेलवे के आसनसोल खंड में रेलवे ट्रैक की मिट्टी धंसने से ट्रेनों पर असर प़़डा। हाव़़डा से सियालदह रूट की ट्रेनों को रद्द किया गया। हालांकि देर शाम तक मरम्मत के बाद लाइन चालू कर दी गई। इस रूट से दिल्ली--हाव़़ड़ा के बीच दो राजधानी एक्सप्रेस व अन्य ट्रेनें इसी रूट से गुजरती हैं।

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस