रायपुर, राज्य ब्यूरो। छत्तीसगढ़ के स्कूलों में शिक्षकों की कमी को देखते हुए वित्त विभाग ने शिक्षकों के खाली पड़े 14 हजार 580 पदों पर पात्र अभ्यर्थियों की नियुक्ति आदेश जारी करने को अपनी सहमति दे दी है। प्रदेश में छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) ने वर्ष 2019 में भर्ती परीक्षा ली थी। इसके बाद कोरोना महामारी के कारण स्कूल बंद हो गए और इन शिक्षकों की नियमित भर्ती नहीं हो पाई।

दो अगस्त से खुलेंगे स्कूल

दो अगस्त से खुलने जा रहे स्कूलों के कारण अब इन शिक्षकों को नियुक्त करने के लिए वित्त विभाग ने सहमति दी है। इसके बाद स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इस आशय का आदेश जारी किया गया है। विभाग के आयुक्त कमलप्रीत ने बताया कि आदेश में कहा गया है कि नियुक्ति आदेश व्यक्तिगत जारी किए जाएं। नियुक्ति आदेश में स्पष्ट उल्लेख किया जाए कि प्रोबेशन अवधि में देय वेतन वित्त विभाग के निर्देश के अनुसार होगा।

3,177 पदों के लिए व्याख्याताओं की भी होगी भर्ती

पूरे प्रदेश में व्याख्याताओं के 3,177 पदों के लिए पात्र अभ्यर्थियों में अब तक केवल 2,683 पदों पर ही भर्ती के लिए नियुक्ति आदेश निकाला गया है। बाकी 494 पदों पर अभी भर्ती होनी है।

इन पदों के लिए जारी होगा नियुक्ति आदेश

पद                     पदों की संख्या                   विवरण

व्याख्याता            3,177 2,683 नियुक्ति आदेश जारी

सहायक शिक्षक  4,000 जिला स्तर पर प्रक्रिया

शिक्षक              4,500 संभाग स्तर पर प्रक्रिया

अंग्रेजी सहायक शिक्षक 306 जिला स्तर पर प्रक्रिया

अंग्रेजी शिक्षक 456 संभाग स्तर पर प्रक्रिया

शिक्षक कृषि 196 संभाग स्तर पर प्रक्रिया

व्यायाम शिक्षक 745 संभाग स्तर पर

प्रक्रिया सहायक शिक्षक विज्ञान 1,200 जिला स्तर पर प्रक्रिया

कुल 14,580 पद

दो अगस्त से स्कूल खुलने जा रहे हैं। सालों बाद स्कूल शिक्षा विभाग में नियमित व्याख्याता, शिक्षक और सहायक शिक्षकों की भर्ती के लिए व्यापमं ने परीक्षा ली थी। इनकी भर्ती को लेकर सरकार की मंशा स्पष्ट है। वित्त विभाग ने अनुमति दे दी है। अब जल्द ही नियुक्ति आदेश जारी कर दिया जाएगा- डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, मंत्री, स्कूल शिक्षा।

Edited By: Bhupendra Singh