पुणे। सरेंडर के बाद पिछले हफ्ते भर से मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद अभिनेता संजय दत्त को बुधवार सुबह 4 बजे गुपचुप तरीके से पुणे की यरवदा जेल में शिफ्ट कर दिया गया। यरवदा जेल में संजय दत्त अब कैदी नंबर 16656 के रूप में जाने जाएंगे।

गौरतलब है कि 1993 के मुंबई बम धमाके मामले में आ‌र्म्स एक्ट के तहत पांच साल कैद की सजा पाए दत्त डेढ़ साल जेल में गुजार चुके हैं। अब उन्हें साढ़े तीन साल कैद भुगतनी होगी। एक जेल अधिकारी ने बताया कि मुंबई से पुणे की तीन घंटे की यात्रा के दौरान सुरक्षा संबंधी कारणों और मीडिया से बचने के लिए 53 वर्षीय दत्त को पुणे की जेल ले जाया गया। उन्हें यरवदा भेजने के लिए पुलिस की तीन गाड़ियों का इस्तेमाल किया गया।

जेल जाने से पहले संजू ने उनकी जान खतरे में है इस बात का हवाला देते हुए यरवदा जेल भेजे जाने की अपील की थी, लेकिन बाद में उन्होंने खुद अपनी ये अर्जी वापस ले ली थी। इसके बाद 16 मई मुंबई के आर्थर रोड जेल के अंडा सेल में रखे जाने पर भी उनके वकील ने आपत्ति जताई थी। संजू को वहां काफी घुटन महसूस हो रही थी। उन्होंने टाडा अदालत से उन्हें यरवदा जेल भेजने की अपील की थी। अंडा सेल में आमतौर पर संदिग्ध आतंकियों और खूंखार अपराधियों को रखा जाता है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस