नई दिल्ली, प्रेट्र। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एकल उपयोग वाले प्लास्टिक को नकारने की पहल के तहत रेलवे ने नायाब पहल की है। इसके मुताबिक अगर कोई यात्री स्टेशन पर लगी प्लास्टिक बोतल क्रशिंग मशीन का उपयोग करता है तो रेलवे उसके फोन को रिचार्ज करने में मदद करेगा। बता दें कि स्वतंत्रता दिवस के अपने भाषण में पीएम मोदी ने राष्ट्र से एकल उपयोग वाले प्लास्टिक को खत्म करने और प्राथमिकता पर पानी वाली प्लास्टिक की बोतलों का विकल्प खोजने की अपील की थी।

रेलवे ने निर्देश जारी किया है कि इस वर्ष दो अक्टूबर से उसके परिसर में एकल उपयोग वाले प्लास्टिक का प्रयोग नहीं किया जाएगा। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने कहा कि स्टेशनों पर 400 प्लास्टिक बोतल क्रशिंग मशीन लगाई जाएंगी। अगर कोई यात्री उपयोग करना चाहता है तो उसे मशीन में अपना फोन नंबर डालना होगा और उसका फोन रिचार्ज हो जाएगा।

हालांकि कितनी राशि का रिचार्ज यात्री को मिलेगा, इसकी जानकारी नहीं मिल सकी है। बता दें कि वर्तमान में 128 स्टेशनों पर 160 क्रशिंग मशीनें लगी हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सभी रेलवे कर्मचारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे रेलवे स्टेशनों पर इस्तेमाल की जाने वाली सभी प्लास्टिक की बोतलों को एकत्र करें और उन्हें री-साइक्लिंग के लिए भेजें।

इससे पहले मंत्रालय ने अपने सभी कर्मचारियों को निर्देश जारी करके कहा था कि वे पुन: प्रयोग वाले बैग का उपयोग करें। दो अक्टूबर को एकल उपयोग वाले प्लास्टिक के उपयोग में कमी लाने का संकल्प दिलाया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः Indian Railways: देश की पहली प्राइवेट ट्रेन दौड़ने को तैयार, जानें- आपको क्या सुविधाएं मिलेगी

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप