नई दिल्ली, एजेंसी। देश के दिग्गज वकील और केंद्रीय कानून मंत्री रहे राम जेठमलानी का आज दिल्ली में सुबह 95 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। जेठमलानी पिछले दो हफ्तों से गंभीर रूप से बीमार चल रहे थे। जेठमलानी, अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के समय कानून मंत्री और शहरी विकास मंत्री रहे हैं। उनके निधन के बाद प्रधानमंत्री मोदी, उपराष्ट्रपति से लेकर कई दिग्गज नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है। आइए जानते हैं किसने क्या कहा...

यूपी के सीएम योगी ने दी श्रद्धांजलि
राम जेठमलानी के निधन पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर लिखा, ' देश के कानूनी रूप से विख्यात और पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री राम जेठमलानी जी के निधन के बारे में सुनकर गहरा दुःख हुआ। मेरे विचार और प्रार्थनाएं शोक संतप्त परिवार के साथ हैं।'

ममता बनर्जी ने जताया दुख
जेठमलानी के निधन पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुख जताया है। ममता ने कहा ,'सम्मानित वकील और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी जी के निधन पर दुख है।जब मैं दिल्ली आती थी तो हम अक्सर मिलते थे। उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना व्यक्त करती हूं।'

दिग्विजय सिंह: 'उनके साहस की प्रशंसा करता हूं'

राम जेठमलानी के निधन पर कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने दुख जताते हुए ट्वीट किया, 'राम जेठमलानी जी के निधन के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ। हालांकि मेरे विचार से मैं उनके साथ सभी मुद्दों पर एक ही पृष्ठ पर नहीं था लेकिन मैंने उनके विचारों को हवा देने के लिए उनके साहस की प्रशंसा की। उनकी आत्मा को शांति मिले।'

राष्ट्रपति कोविंद ने जताया दु:ख
राष्ट्रपति कोविंद ने भी जेठमलानी के निधन पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने लिखा है, 'पूर्व केंद्रीय मंत्री और अनुभवी वकील राम जेठमलानी के निधन से दुखी हूं। वह अपनी विशिष्ट वाक्पटुता के साथ सार्वजनिक मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त करने के लिए जाने जाते थे। राष्ट्र ने एक प्रतिष्ठित न्यायविद्, एक महान बुद्धि का व्यक्ति खो दिया है।

पीएम मोदी: 'निडर थे जेठमलानी'
पीएम मोदी ने राम जेठमलानी की मौत पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है, 'राम जेठमलानी के सबसे अच्छे पहलुओं में से एक उनके मन की बात कहने की क्षमता थी और उन्होंने बिना किसी डर के ऐसा किया। आपातकाल के काले दिनों के दौरान उनकी स्वतंत्रता और सार्वजनिक स्वतंत्रता के लिए लड़ाई को याद किया जाएगा। जरूरतमंदों की मदद करना उनके व्यक्तित्व का एक अभिन्न हिस्सा था।

मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि राम जेठमलानी के साथ बातचीत करने के कई अवसर मिले। इन दुखद क्षणों में उनके परिवार, दोस्तों और कई प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना। शांति।

अमित शाह: 'मशहूर वकील ही नहीं महान व्यक्ति भी थे'
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जेठमलानी के निधन पर अमित शाह ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि  भारत के वरिष्ठ वकील और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी जी के निधन के बारे में जानने पर गहरी पीड़ा हुई। हम न केवल एक प्रतिष्ठित वकील को खो चुके हैं बल्कि एक महान व्यक्ति भी थे, जो जीवन से भरा हुए था।

राम जेठमलानी जी का निधन पूरे कानूनी समुदाय के लिए एक अपूरणीय क्षति है। कानूनी मामलों पर उनके विशाल ज्ञान के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा। शोक संतप्त परिवार के प्रति मेरी संवेदना। शांति शांति शांति।

वेंकैया नायडू: 'महान बौद्धिक और देशभक्त खो दिया'
राम जेठमलानी के निधन पर उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है, 'पूर्व केंद्रीय मंत्री, एक कानूनी जानकार और भारत के प्रतिभाशाली दिमागों में से एक श्री राम जेठमलानी के निधन से गहरा दुःख हुआ। उनके निधन से राष्ट्र ने एक प्रतिष्ठित न्यायविद्, एक महान बौद्धिक और देशभक्त खो दिया है, जो अपनी अंतिम सांस तक सक्रिय थे।

रविशंकर प्रसाद: 'कानून के गहरी समझ रखते थे'

राम जेठमलानी के निधन पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है, 'अनुभवी वकील और पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करता हूं।उनकी प्रतिभा, वाक्पटुता, शक्तिशाली वकालत और उनकी कानून की समझ, कानूनी पेशे में एक योग्य उदाहरण बनी रहेगी। मेरी गहरी संवेदना।'

सुब्रमण्यम स्वामी: 'मैंने अच्छा दोस्त खो गया'

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील रहे राम जेठमलानी के निधन पर सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। सुब्रमण्यम स्वामी ने लिखा, ' मेरे बहुत अच्छे दोस्त राम जेठमलानी का 95 वर्ष की आयु में आज निधन हो गया। विदाई मित्र।

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप