नई दिल्ली। वर्ष 1993 में मुंबई में श्रृंखलाबद्ध विस्फोटों का आरोपी व अंडरवर्ल्ड डॉन सरगना दाऊद इब्राहिम के प्रत्यर्पण मामले में गृह मंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को लोकसभा में अपना बयान देंगे।गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि दाऊद के लोकेशन के बारे में मई 2013 में यूपीए सरकार ने ठीक वैसा ही जवाब दिया था जैसा इस हफ्ते राजग सरकार ने दिया है। आज लोकसभा में कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के सवाल का जवाब देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि विपक्षी सदस्यों ने गृह राज्यमंत्री के जवाब को समझने में गलती की। उनका जवाब वैसा ही था जैसा पूर्व की यूपीए सरकार का था।

विपक्षी कांग्रेस ने शुक्रवार को दाऊद का मुद्दा एक बार फिर उठाया और भारत में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित के बयान पर सरकार से सफाई मांगी। मालूम हो कि गृह राज्यमंत्री हरिभाई परथीभाई चौधरी के संसद में बयान की आड़ में बासित ने दाऊद के पाकिस्तान में होने के बारे में पूर्व में सौंपे भारत के डोजियर (दस्तावेजी साक्ष्य) की विश्वसनीयता पर सवाल उठाया है। साथ ही यह भी स्पष्ट किया कि भारत ने कभी भी दाऊद के प्रत्यर्पण्ा की मांग लिखित में नहीं उठाई है।

ध्यान रहे कि गृह राज्यमंत्री चौधरी ने मंगलवार को लोकसभा में दाऊद के पाकिस्तान में होने के भारत के पहले के रुख के ठीक विपरीत जाकर बयान दिया। उन्होंने कहा था कि दाऊद कहां है, सरकार को जानकारी नहीं है। इस बयान पर विपक्ष के हो-हंगामे के बाद सरकार का रुख स्पष्ट करने के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह सामने आए और उन्होंने कहा कि इस बारे में संदेह की कोई गुंजाइश नहीं है कि दाऊद कहां है। यह सब जानते हैं कि दाऊद कहां छिपा है और कौन उसे संरक्षण दे रहा है।

पढ़ें : दाऊद के दिए बयान से पलटे गृह राज्यमंत्री हरिभाई चौधरी

पढ़ें : दाऊद कहां है इस बात में संदेह की कोई गुंजाइश नहीं : राजनाथ

Edited By: Sanjay Bhardwaj

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट