भोपाल, एएनआइ। मध्यप्रदेश के सहायक आबकारी आयुक्त आलोक कुमार खरे के कई ठिकानों पर छापामारी हुई है। यह छापामारी की कार्रवाई लोकायुक्त द्वारा की गई है। जानकारी अनुसार यह कार्रवाई देर रात से चल रही है। बेनामी संपत्ति के मामले में यह छापामारी हुई है। भोपाल, इंदौर, रायसेन, छतरपुर और अन्य ठिकानों पर छापे मारे गए हैं। 

जानकारी के अनुसार छतरपुर में 12 सदस्यीय टीम कार्रवाई कर रही है। बताया जा रहा है कि खरे के खिलाफ आय से ज्यादा संपत्ति होने की शिकायत मिली थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई। बता दें कि हाल के दिनों में राज्य के कई अधिकारियों के ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाई हुई है।   

छतरपुर निवास पर उनके पिता रहते हैं

बता दें कि छतरपुर निवास पर उनके पिता लालजी खरे रहते हैं। सागर लोकायुक्त की टीम द्वारा यह कार्रवाई भोपाल लोकायुक्त के निर्देश पर हो रही है। लोकायुक्त डीएसपी नवीन अवस्थी के अनुसार यह राज्य की सबसे बड़ी कार्रवाई हो सकती है।  इंदौर लोकायुक्त टीम की मदद से इंदौर में कार्रवाई हुई।  

इंदौर में ताला मिला

जानकारी के अनुसार जब टीम इंदौर के ग्रेंड एक्सओटिका समेत एक अन्य जगह पर पहुंची तो उन्हें वहां ताला मिला। खरे के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति होने की शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस ने यह कार्रवाई की। यह भी जानकारी भी सामने आ रही है कि रायसेन में खरे की पत्नी फलों की खेती कर रही  हैं। खरे, इनकम टैक्स रिटर्न अपनी पत्नी के नाम से ही फाइल कर रहे थे।

राजगढ़ जिले के दो भाइयों के ठिकानों पर छापेमारी

भ्रष्टाचार रोधी लोकायुक्त पुलिस ने इससे पहले मध्य प्रदेश में शनिवार पांच अक्टूबर को राजगढ़ जिले के निवासी दो भाइयों के ठिकानों पर छापेमारी की थी। यह छापामारी भी संपत्ति के मामले में ही हुई थी। इस दौरान आनंद व्यास (62), पूर्व सचिव आगर-मालवा कृषि उपज मंडी (सरकारी कृषि उपज बाजार), और उनके छोटे भाई परमानंद व्यास (55), ए सुजालपुर कृषि उपज मण्डी में लेखाकार के छिकानों पर छापा मारा गया। उज्जैन लोकायुक्त पुलिस के इंस्पेक्टर बसंत श्रीवास्तव ने बताया कि इनमें से दो संपत्तियां भोपाल और एक राजगढ़ जिले के पिछोर में थी।

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप