नई दिल्ली। आदर्श घोटाले के मुद्दे पर राहुल गांधी के कथन को अवास्तविक करार देते हुए भाजपा नेता अरुण जेटली ने शनिवार को कहा कि उनकी नाराजगी प्राकृतिक नहीं बल्कि बनावटी है। उन्होंने सवाल किया कि जब 2जी, कोयला, राष्ट्रमंडल घोटाले सामने आए तब यह नाराजगी सामने क्यों नहीं आई?

जेटली ने केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे पर निशाना साधते हुए कहा कि यदि राहुल आदर्श मुद्दे पर गलती को इतनी ही दृढ़ता के साथ महसूस कर रहे होते तो दोषी पर निश्चित रूप से मुकदमा चलता, वह देश का गृह मंत्री नहीं होता। ज्ञातव्य है कि जांच आयोग ने आदर्श हाउसिंग सोसाइटी मामले में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शिंदे को भी दोषी माना है।

आदर्श घोटाले की रिपोर्ट पर दोबारा विचार करेगी महाराष्ट्र सरकार: सोनिया

राज्यसभा के नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई दृढ़ता के साथ और लगातार जारी रखनी होगी। यह लड़ाई छिटपुट नहीं हो सकती। मीडिया के सामने इस तरह की छिटपुट नाटकीय प्रतिक्रियाएं देने का मकसद केवल खुद को अलग दिखाने का इरादा है वह भी तब जब आप खुद उसी का हिस्सा हैं। उन्होंने राहुल पर इस बात के लिए गुस्सा नहीं दिखाने की भी आलोचना की कि उनकी पार्टी घोटाले में दोषी करार लालू प्रसाद यादव से गठबंधन कर रही है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर