नई दिल्ली, एएनआइ। आगामी सात अगस्त को 'नेशनल हैंडलुम डे' है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने 'वोकल फोर लोकल' अभियान के तहत लोगों से ज्यादा से ज्यादा स्वदेशी हैंडलूम और हैंडीक्रफ्ट का उपयोग करने की अपील की है, ताकि स्थानीय कारिगरों और बुनकरों का लाभ हो सके।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "सात अगस्त को नेशनल हैंडलूम डे है। भारतीय हैंडलूम और हमारा हस्तशिल्प में सैकड़ों वर्षों का गौरवशाली इतिहास समाहित है। यह हम सभी के लिए एक प्रयास होना चाहिए कि हम भारतीय हैंडलूम और हस्तशिल्प का अधिक से अधिक उपयोग करें और इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों से बात भी करें।" प्रधानमंत्री ने रविवार को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात’ के 67 वें संस्करण को संबोधित करते हुए यह कहा है।

उन्होंने कहा, "भारतीय हैंडलूम और हस्तशिल्प की समृद्धि और विविधता के बारे में दुनिया जितना जानेगी, उतना ही हमारे स्थानीय कारीगरों और बुनकरों को लाभ होगा।" उन्होंने आगे कहा कि कुछ दिन बाद देश में रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाएगा। मैंने गौर किया है कि इस साल कई संस्थान और लोग रक्षाबंधन को अलग-अलग तरीके से मनाने के लिए अभियान कर रहे हैं। और कई लोग इस त्योहार को 'वोकल फोर लोकल' से जोड़ रहे हैं, जोकि बिल्कुल सही है। उन्होंने आगे कहा, "समाज में, अगर हमारे घर के पास के व्यक्ति का व्यवसाय हमारे त्योहारों के कारण बढ़ता है और इस प्रकार, उसके त्योहार में विलय हो जाता है, तो त्योहार का आनंद कई गुना बढ़ जाता है। रक्षाबंधन पर सभी देशवासियों को ढेर सारी शुभकामनाएं।"

नहीं टला कोरोना का खतरा - पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए लोगों को कोरोना वायरस (COVID-19) के प्रति अगाह किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस अभी भी उतना ही घातक है, जितना पहले था। उन्होंने लोगों से मास्क लगाने और साफ सफाई पर ध्यान रखने की अपील की।

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस