नई दिल्ली, एजेंसियां। राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द वर्षों से चली आ रही परंपरा को तोड़ते हुए इस साल लद्दाख के द्रास इलाके में जवानों के साथ दशहरा मनाएंगे। परंपरागत रूप से, राष्ट्रपति राष्ट्रीय राजधानी में दशहरा समारोह में भाग लेते रहे हैं, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। गौरतलब है कि देश में दशहरा शुक्रवार को मनाया जाएगा। राष्ट्रपति भवन की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार राष्ट्रपति कोविन्द लद्दाख और जम्मू-कश्मीर के  दो दिन के दौरे पर जाने वाले हैं। 

राष्ट्रपति कोविन्द 14 और 15 अक्टूबर को लद्दाख और जम्मू-कश्मीर का दौरा करेंगे। इस दौरान 14 अक्टूबर को वह लेह के सिंधु घाट में सिंधु दर्शन पूजा करेंगे। इसी दिन शाम को वह उधमपुर में सैनिकों के साथ बातचीत करेंगे। इसके बाद 15 अक्टूबर को दशहरा के मौके पर वह द्रास में कारगिल युद्ध स्मारक पर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देंगे। इस दौरान वह जवानों से बातचीत भी करेंगे। 

बता दें कि राष्ट्रपति कोविन्द ऐसे वक्त पर जम्मू-कश्मीर दौरे पर जा रहे हैं, जब वहां आतंकी गतिविधियों में वृद्धि देखने को मिली है। टारगेट किलिंग के भी मामले सामने आए हैं। इसके अलावा पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीन के साथ तनाव जारी है। ऐसे में उनका यह दौरा काफी महत्वपूर्ण होगा। इससे जवानों का मनोबल भी बढ़ेगा।

यह भी पढ़ें : 23 से 25 अक्टूबर तक जम्मू-कश्मीर के दौरे पर रहेंगे गृह मंत्री अमित शाह, जानें इस यात्रा का एजेंडा

Edited By: Tanisk