भोपाल, एएनआइ। देशभर में लगे कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते सभी वर्गों के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लॉकडाउन के लगने से मध्य प्रदेश के कुलियों पर भी असर पड़ है। न्यूज एजेंसी एएनआइ के मुताबिक,जब से लॉकडाउन लगाया है तभी से राज्य के कुली टिकट कलेक्टर्स पर निभर हैं, क्योंकि सरकार की ओर से अभी तक कोई सहायता उन्हें नहीं मिली है।

न्यूज एजेंसी एएनआइ से बातचीत करते हुए एक कुली योगेश कमलाकर ने कहा कि हम लॉकडाउन के चलते काफी परेशानियों का सामना कर रहे हैं। कोई भी पैसेंजर ट्रेन नहीं आती है  ऐसे में  हमारे पास काम नहीं है। हमारे पास आय का कोई स्रोत नहीं है। हमें अपने परिवार की देखभाल कैसे कर पाएंगे।

वहीं दूसरे कुली नरेंद्र तिवारी ने बताया कि पूरे देश में इस वक्त कोरोना वायरस लॉकडाउन लगा हुआ है। ऐसे में हम वित्तीय कठिनाइयों का सामना कर हैं। हमें टीसी से केवल कुछ मदद मिली है हालांकि हमने मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा था लेकिन अभी कोई भी जवाब नहीं मिला है। हम अभी भी उनकी प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा कर रहे हैं। 

बता दें कि इस वक्त देश में लॉकडाउन के तीसरे चरण चल रहा है। कोरोना वायरस के चलते यह लॉकडाउन लगाया हुआ है। यह लॉकडाउन 17 मई तक चलेगा। ऐसे में सभी वर्गों को लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस लॉकडाउन के चलते एक तरफ जहां पूरा देश घरों में कैद है तो वहीं देश के कोने-कोने में प्रवासी फंसे हुए हैं। ऐसे वक्त में सभी लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने किए स्पेशल ट्रेनें भी चलाई गई है। यही नहीं जरुरतमंद लोगों की हरसंभव मदद की जा रही है। चीन के वुहान से फैले कोरोना संकट से सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया जूझ रही है। ऐसे में सभी देश अपने स्तर पर इस वायरस से निपटने के लिए एहतियात बरत रहे हैं।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस