नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली-एनसीआर में कुछ दिनों की राहत के बाद प्रदूषण का स्तर फिर बढ़ गया है। कई इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स अत्यधिक खराब से गंभीर श्रेणी में दर्ज किया गया है। इसे देखते हुए दिल्ली में निर्माण कार्यों पर फिर से रोक लगा दी गई है वहीं, स्कूल कालेज 28 नवंबर तक बंद रहेंगे। बता दें कि बुधवार को दिल्ली- एनसीआर में प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी।

कोर्ट ने केंद्र सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था कि हालात बिगड़ने से पहले एक्शन क्यों नहीं लिया जाता है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश और हरियाणा के भी कई जिलों में प्रदूषण की स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। यहां भी प्रदूषण का स्तर अत्यधिक खराब श्रेणी में दर्ज किया गया है।

सेंट्रल पाल्यूशन कंट्रोल ब्यूरो के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, गुरुवार को दिल्ली के ज्यादातर इलाकों में प्रदूषण का स्तर 400 से अधिक पहुंच गया, जो कि गंभीर श्रेणी में आता है। आनंद विहार में 445, सोनिया विहार में 432, चांदनी चौक में 403, जहांगीर पुरी में 469, मुंडका 425 दर्ज किया गया है। ओखला में 419, पंजाबी बाग में 378 और वजीरपुर में 461 रिकार्ड किया गया।

उत्तर प्रदेश में भी हालात सामान्य होते नजर नहीं आ रहे हैं। दिल्ली से सटे नोएडा और गाजियाबाद में प्रदूषण का स्तर गंभीर श्रेणी में बना हुआ है। गाजियाबाद के इंदरापुरम में 332, वसुंधरा 360 लोनी में 479 है। इसके अलावा नोएडा के सेक्‍टर 62 में 421 रिकार्ड किया गया है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक यूपी में बुलंदशहर के यमुनापुरम में एक्‍यूआई का स्‍तर 371 दर्ज किया गया है।

Edited By: Neel Rajput