नई दिल्‍ली, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोवा के हेल्थकेयर वर्कर्स और कोविड वैक्सीन के लाभार्थियों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि गोवा के प्रत्येक पात्र व्यक्ति को वैक्सीन की एक डोज लग चुकी है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में ये बहुत बड़ी बात है। इसके लिए गोवा के सभी लोगों को बहुत-बहुत बधाई। इस दौरान एक समाजसेवक से बातचीत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश को अगर अपने संकल्प सिद्ध करने हैं, तो हमारी कोशिशों में सबके प्रयास भी बहुत ज़रूरी है। आपके प्रयास से गोवा ने वैक्सीनेशन में उपलब्धी हासिल की। आपकी तरह समाज सेवा करने वाले लाखों लोग हैं। मैं आपको बधाई देता हूं।

पीएम मोदी ने एक डॉक्‍टर से बातचीत के दौरान कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा, 'मैंने सुना है कि कोरोना रोधी वैक्‍सीन लेने के बाद कुछ लोगों को इसका रिएक्‍शन होता है और उन्‍हें बुखार भी आ जाता है। ऐसा भी सुनने को मिला है कि कुछ लोगों को बहुत तेज बुखार आ जाता है और वह अपना मानसिक संतुलन तक खो सकते हैं। मैं कोई वैज्ञानिक या डाक्‍टर नहीं हूं। मुझे इसकी ज्‍यादा जानकारी नहीं है। इसलिए मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि कल देशभर में ढाई करोड़ से ज्‍यादा लोगों को कोरोना की वैक्‍सीन लगाई गई। इसके बाद वैक्‍सीन लगवाने वाले लोगों को बुखार आया ये हमने सुना। लेकिन ढाई करोड़ वैक्‍सीन लगने के बाद कल रात 12 बजे के बाद राजनैतिक पार्टी को रिएक्‍शन आया, उनको बुखार चढ़ गया। इसका कोई लॉजिक हो सकता है क्‍या?'

पीएम मोदी ने कहा, 'आप सभी को श्री गणेश पर्व की ढेर सारी शुभकामनाएं। कल अनंत चतुर्दशी के पावन पर्व पर बप्पा को विदाई देंगे। हाथों में अनंत सूत्र भी बाधेंगे। अनंत सूत्र यानी जीवन में सुख, समृद्धि और लंबी आयु का

मुझे खुशी है कि इस पावन दिन से पहले गोवा के लोगों ने अपने हाथों पर ‘जीवन रक्षा सूत्र’ यानी वैक्सीन लगाने का काम पूरा कर लिया है। बीते कुछ महीनों में गोवा ने भारी बारिश, साइक्लोन, बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के साथ भी बड़ी बहादुरी से लड़ाई लड़ी है। इन प्राकृतिक चुनौतियों के बीच कोरोना टीकाकरण की रफ्तार को बनाए रखने के लिए सभी कोरोना वॉरियर्स का, स्वास्थ्य कर्मियों का, टीम गोवा का मैं अभिनंदन करता हूं।'

प्रधानमंत्री ने गोवा की सराहना करते हुए कहा कि सामाजिक और भौगोलिक चुनौतियों से निपटने के लिए जिस प्रकार का समन्वय गोवा ने दिखाया है, वो सराहनीय है। राज्य के दूर-सुदूर में बसे, केनाकोना सब डिविजन में भी बाकी राज्य की तरह ही तेज़ी से टीकाकरण होना इसका प्रमाण है। मैं देश के सभी डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ, प्रशासन से जुड़े लोगों की भी सराहना करना चाहता हूं। आप सभी के प्रयासों से कल भारत ने एक ही दिन में ढाई करोड़ से भी अधिक लोगों को वैक्सीन देने का रिकॉर्ड बनाया है। जन्मदिन तो बहुत आए और बहुत गए पर मैं मन से हमेशा इन चीजों से अलिप्त रहा हूं, इन चीजों से मैं दूर रहा हूं। पर मेरी इतनी आयु में कल का दिन मेरे लिए बहुत भावुक कर देने वाला था। कल का दिन मेरे लिए बहुत खास बन गया है। मेडिकल फील्ड के लोग, जो लोग पिछले दो साल से जुटे हुए हैं, अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना से लड़ने में देशवासियों की मदद कर रहे हैं, उन्होंने कल जिस तरह से वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाकर दिखाया है, वो बहुत बड़ी बात है।

उन्‍होंने कहा कि ये बहुत चर्चा में नहीं आया, लेकिन भारत ने अपने वैक्सीनेशन अभियान में टूरिज्म सेक्टर से जुड़े राज्यों को बहुत प्राथमिकता दी है। प्रारंभ में हमने कहा नहीं क्योंकि इस पर भी राजनीति होने लगती। लेकिन ये बहुत जरूरी था कि हमारे टूरिज्म डेस्टिनेशंस खुलें।

गोवा के मुख्यमंत्री भी संवाद सम्मेलन में शामिल हैं। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि हमने कोविड वैक्सीन की पहली डोज़ को 100 प्रतिशत पूरा कर दिया है। आपसे और केंद्र सरकार से सहयोग मिला इसलिए हम यह कर पाए। हमने लगभग 42% कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज़ अब तक दी है। हमने वैक्सीन की बर्बादी बिल्कुल भी नहीं की है। 

इससे पहले गोवा के मुख्‍यमंत्री ने बताया, 'यह बड़ी खुशी की बात है कि मेरा मंत्रिमंडल सचिवालय से सीधे प्रधानमंत्री से बातचीत करेगा। वह उत्तरी गोवा और दक्षिण गोवा कलेक्ट्रेट के स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों से भी बात करेंगे। साथ ही पीएम मोदी राज्य के छह मुख्य स्थानों के लाभार्थियों से भी बात करेंगे। वह कोरोना वैक्‍सीन की पहली खुराक के 100 फीसद टीकाकरण और राज्य में विकास के लिए गोवा को बधाई देंगे।'

बता दें कि प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम का गोवा में सभी सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र, पंचायत और नगर पालिकाएं सीधा प्रसारण कर रही हैं।

Edited By: Tilakraj