Move to Jagran APP

Amrit Bharat Stations: 550 अमृत भारत स्टेशनों की 26 फरवरी को सौगात देंगे PM मोदी, हाईटेक सुविधाओं से लैस होंगे स्टेशन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 26 फरवरी को 550 अमृत भारत स्टेशनों की सौगात देंगे। अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि पीएम मोदी एक समारोह के दौरान विभिन्न राज्यों में तकरीबन 1500 रोड ओवरब्रिज और अंडरब्रिज की आधारशिला भी रखेंगे। पीएम मोदी देशभर के 50 हजार बच्चों से सीधे संवाद करेंगे। दरअसल रेलवे ने 2047 के विकसित भारत का विकसित रेलवे की थीम पर एक प्रतियोगिता का आयोजन किया था।

By Agency Edited By: Anurag GuptaPublished: Wed, 21 Feb 2024 03:58 PM (IST)Updated: Wed, 21 Feb 2024 03:58 PM (IST)
अमृत भारत स्टेशनों की आधारशिला रखेंगे PM मोदी (फाइल फोटो)

पीटीआई, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 26 फरवरी को 550 अमृत भारत स्टेशनों की सौगात देंगे। पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 40 हजार करोड़ रुपये की लागत से रूफटॉप प्लाजा और सिटी सेंटर विकसित करके रेलवे स्टेशनों पर सुविधाओं में सुधार के लिए अमृत भारत स्टेशनों की आधारशिला रखेंगे।

अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि पीएम मोदी एक समारोह के दौरान विभिन्न राज्यों में तकरीबन 1,500 रोड ओवरब्रिज और अंडरब्रिज की आधारशिला भी रखेंगे।

बच्चों से संवाद करेंगे PM मोदी

पीएम मोदी देशभर के 50 हजार बच्चों से सीधे संवाद करेंगे। दरअसल, रेलवे ने '2047 के विकसित भारत का विकसित रेलवे' की थीम पर एक प्रतियोगिता का आयोजन किया था। इस प्रतियोगिता में 4,000 स्कूलों के छात्रों ने हिस्सा लिया था। बकौल रिपोर्ट, तकरीबन चार लाख छात्रों ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया और समारोह के दौरान मंडल रेल प्रबंधकों और वरिष्ठ रेलवे अधिकारियों की ओर से 50,000 स्कूली छात्रों को पुरस्कार दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी बिहार को देंगे करोड़ों की सौगात, इस दिन करेंगे रेलवे की कई योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन

अमृत भारत स्टेशन योजना

रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास के लिए अमृत भारत स्टेशन योजना शुरू की गई थी। इसमें स्टेशन पहुंच, सर्कुलेटिंग एरिया, वेटिंग हॉल, शौचालयों में सुधार, स्वच्छता, फ्री वाईफाई, एक स्टेशन एक प्रोडक्ट और बेहतर यात्री सूचना प्रणाली के माध्यम से स्टेशनों पर सुविधाओं में सुधार के लिए मास्टर प्लान तैयार करना और चरणों में उनका कार्यान्वयन शामिल है।

इस योजना के तहत हर एक स्टेशन पर आवश्यकतानुसार कार्यकारी लाउंज और व्यावसायिक बैठकों के विशिष्ट स्थान का निर्माण भी शामिल है। इसमें इमारतों के सुधार, स्टेशनों को शहरों के दोनों ओर एकीकृत करने, मल्टीमॉडल एकीकरण, दिव्यांग व्यक्तियों के लिए सुविधाएं, गिट्टी रहित ट्रैक के लिए प्रावधान, आवश्यकतानुसार रूफ प्लाजा इत्यादि की परिकल्पना की गई है।

यह भी पढ़ें: '2030 तक द्विपक्षीय व्यापार होगा दोगुना', ग्रीक पीएम मित्सोटाकिस की भारत यात्रा को PM मोदी ने बताया ऐतिहासिक


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.