Move to Jagran APP

PM Modi: 'राजनीतिक हवा बदली हुई दिख रही है', विदेशी मीडिया ने कुछ यूं किया मोदी 3.0 शपथ ग्रहण समारोह को कवर

PM Modi Oath Ceremony नरेन्द्र मोदी लगातार तीसरी बार भारत के प्रधानमंत्री बन चुके हैं। पीएम नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ले चुके हैं। पीएम मोदी लगातार तीसरी बार भारत के प्रधानमंत्री चुने गए हैं। इससे पहले जवाहरलाल नेहरू के नाम यह रिकार्ड दर्ज था। आपको यहां बता रहे हैं कि विदेशी मीडिया ने पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह को कैसे कवर किया है।

By Babli Kumari Edited By: Babli Kumari Published: Mon, 10 Jun 2024 10:42 AM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 10:42 AM (IST)
नरेंद्र मोदी ने तीसरी बार लिया भारत के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ (फोटो- ANI)

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। PM Modi Oath Ceremony: नरेंद्र मोदी ने रविवार को ऐतिहासिक तीसरे कार्यकाल के लिए भारत के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली। पीएम मोदी के साथ 72 मंत्री भी शपथ लिए हैं जिन्हें अभी तक उनके पदभार नहीं सौंपे गए हैं। मंत्रियों में भाजपा के गठबंधन सहयोगियों में से कुछ चेहरे शामिल थे, जिनका समर्थन सरकार बनाने में महत्वपूर्ण रहा है। साल 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद यह पहली बार होगा जब वह अपने सहयोगियों के साथ सत्ता साझा करेंगे।

बता दें कि नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली है। जवाहरलाल नेहरू के बाद लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने वाले पीएम मोदी दूसरे नेता बन चुके हैं। पीएम मोदी के इस ऐतिहासिक शपथ ग्रहण समारोह में श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे, मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जु, सेशेल्स के उपराष्ट्रपति अहमद अफीफ, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ, नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दाहाल ‘प्रचंड’ और भूटान के प्रधानमंत्री शेरिंग तोबगे शामिल हुए।

आपको यहां बता रहे हैं कि विदेशी मीडिया ने पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह को कैसे कवर किया है।

द न्यूयॉर्क टाइम्स (The Newyork Times)

द न्यूयॉर्क टाइम्स ने पीएम मोदी के शपथ ग्रहण को बताया कि नई सरकार के शपथ ग्रहण के साथ ही नई दिल्ली में राजनीतिक माहौल बदल गया है। संसदीय बहुमत से वंचित होने के बाद, पीएम मोदी ने गठबंधन सहयोगियों की ओर रुख किया है। गठबंधन सहयोगी अब सरकार के साथ सुर्खियों का आनंद ले रहे हैं।

बीबीसी (BBC)

बीबीसी ने पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की रिपोर्टिंग के लिए अलग शैली अपनाते हुए देखी गई, जिसमें मोदी 3.0 और चुनाव परिणामों पर कोई विश्लेषक टिप्पणी नहीं की। हालांकि, इसने उल्लेख किया कि सत्तारूढ़ गठबंधन ने एग्जिट पोल द्वारा अनुमानित अंतर से कम अंतर से जीत हासिल की है। बीबीसी ने इस शपथ समारोह को बताया कि इसे हम 'भारत के विपक्ष का पुनरुत्थान' कह सकते हैं।

अल जजीरा (Al Jazeera) 

अल जजीरा ने रिपोर्ट किया कि बहुमत की कमी गठबंधन सरकार में नीतिगत निश्चितता सुनिश्चित करने की भाजपा की क्षमता का परीक्षण करेगी। अल जजीरा ने गठबंधन के दो दिग्गजों (नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू से गठबंधन) को मिलने वाली चुनौतियों का उल्लेख किया है। गठबंधन को लेकर अल जजीरा ने कहा, ' सत्ता गलियारे के पार दोस्त हैं' और 'विपक्ष उन्हें लुभाने की कोशिश करेगा'।

ब्लूमबर्ग ( Bloomberg)

ब्लूमबर्ग ने शपथ ग्रहण समारोह की भव्यता को बताते हुए कहा कि  पाएम मोदी के शपथ समारोह में  विदेशी राष्ट्राध्यक्षों, उद्योगपतियों और बॉलीवुड सितारों सहित 8,000 अतिथि शामिल हुए। इसने उल्लेख किया कि यह पहली बार है जब पीएम मोदी अपने नेतृत्व का विस्तार करते हुए सत्ता को साझा करेंगे।

एएफपी (AFP)

फ्रांस की एएफपी समाचार एजेंसी ने इस आयोजन का पूरा ब्यौरा दिया कि सजावट से लेकर गठबंधन सहयोगियों तक (जिनका समर्थन सरकार के गठन के लिए महत्वपूर्ण था) शपथ समारोह के लिए तैयार हैं। हालांकि नए मंत्रिमंडल का विवरण अभी तक ज्ञात नहीं है, लेकिन एएफपी ने कहा कि बड़े गठबंधन दलों ने अपने समर्थन के बदले में भारी मांग की है।

यह भी पढ़ें- Modi Cabinet Ministers List: नड्डा की एंट्री तो स्मृति और अनुराग ठाकुर बाहर, मोदी कैबिनेट में 5 सहयोगी दलों को भी जगह, पढ़ें बड़ी बातें


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.