हैदराबाद, एएनआइ।  तेलंगाना के पूर्व भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष हनीफ अली ने बुधवार को कहा कि AMIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी देश में 'नफरत' फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। हनीफ अली ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ओवैसी इस देश में नफरत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, जो देश के लिए अच्छा नहीं है। हर किसी को, चाहे वह हिंदू हो या मुस्लिम, को मंदिर निर्माण में हिस्सा लेना चाहिए। उन्हें सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद ऐसी बातें नहीं कहनी चाहिए। उन्हें शीर्ष अदालत के आदेश का सम्मान करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि बुधवार को अयोध्या में भूमि पूजन से कुछ घंटे पहले, ओवैसी ने कहा, "बाबरी मस्जिद थी, वहां है और वहां रहेगी। इससे पहले दिन में, पीएम मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखने के बाद राष्ट्र को संबोधित किया। हर दिल रोशन है, यह पूरे देश के लिए एक भावनात्मक क्षण है। 

पीएम मोदी बोले मंदिर के निर्माण सेस बनेगा इतिहास

पीएम ने आगे कहा कि इस मंदिर के निर्माण के साथ, न केवल इतिहास बनाया जा रहा है, बल्कि दोहराया जा रहा है। जिस तरह से आदिवासियों ने भगवान राम की मदद की, उसी तरह बच्चों ने भगवान कृष्ण को गोवर्धन पर्वत उठाने में मदद की, इसी तरह, सभी के प्रयासों से मंदिर निर्माण पूरा हो जाएगा।

ओवैसी ने किया था बाबरी मस्जिद को लेकर ट्वीट

जानकारी के लिए बता दें कि अयोध्या में भूमि पूजन से पहले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बाबरी मस्जिद पर ट्वीट किया था। ओवैसी ने बाबरी जिंदा है हैशटैग का इस्तेमाल करते हुए अपना ट्वीट किया। इतना ही नहीं उन्होंने हैदराबाद सांसद ओवैसी ने राम मंदिर भूमि पूजन में पीएम नरेंद्र मोदी के शामिल होने पर भी एतराज जताया था।

यह भी देखें: भूमिपूजन के बाद बोले ओवैसी, बाबरी मस्जिद थी, है, और रहेगी 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021