बैंगलोर,एएनआइ। कर्नाटक में हो रही बारिश के कारण आई बाढ़ में मरने वालों की संख्या 13 पहुंच गई है। दरअसल, 18 अक्टूबर से राज्य में बारिश हो रही है। राज्य सरकार द्वारा इक्ट्ठा किए गए आंकड़ों के अनुसार, करीब 150 जानवरों की इस दौरान मौत हो गई है। पिछले छह दिनों से हो रही बारिश के कारण  लगभग 10,000 घर बर्बाद हो गए हैं। जिसमें से 9832 आंशिक रुप से डैमेज हुए हैं और 206 घर पूरी तरह से तबाह हो गए हैं। 

28 राहत शिवरों में रहे रहे 7,220 लोग

राज्य सरकार ने लोगों की मदद के लिए बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में राहत शिविर लगाए हुए है। अकेले बागलकोट में 3,734 लोगों को सात राहत शिवरों में रखा गया है। आंकड़ों के अनुसार, लगभग 7,220 लोगों को करीब 28 राहत शिवरों में पनाह दी गई है।  कर्नाटक में स्थिति गंभीर होती जा रही है ऐसे में लोगों की मदद के लिए सेना ने राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया है।

सबसे ज्यादा ये जिले प्रभावित

भारी बारिश के कारण आई बाढ़ से सबसे ज्यादा बेलगावी, कलबुर्गी, बागलकोटे, रायचूर, शिवमोगा  धारवाड और विजयपुरा, प्रभावित है। यहां घरों और स्कूलों में पानी भर गया है।  इतना ही नहीं यादगिर में नारायणपुर छाया भगवती मंदिर में भारी बारिश के बाद पानी भर गया । 

प्रभावित इलाकों में अलर्ट पर सेना की टीमें 

बैंगलुरू के रक्षा प्रवक्ता ने मामले की जानकारी देते हुए कहा कि बुधवार सुबह सेना की इंजीनियर्स की चार टीमों को नाव के साथ रायचुर जिले में पुर्नवास सामान के साथ सक्रिय कर दिया गया है। साथ ही प्रभावित जिलों में सेना की कई टीमों को अलर्ट पर रखा गया है। भारी बारिश के कारण होसुरू गांव में आज सुबह एक मकान छह गया। हालांकि अभी तक इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। बता दें कि भारी बारिश के कारण कर्नाटक, केरल और  आंध्र प्रदेश के कई जिले भीषण बाढ़ की चपेट में आ गए हैं।

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप