नई दिल्ली, प्रेट्र। एक सर्वेक्षण में 57 फीसद लोगों ने कहा है कि आठ जून से धार्मिक स्थल भले ही खुल जाएं, लेकिन कोरोना संक्रमण के खतरे से बचने के लिए अभी वे इन स्थलों पर नहीं जाएंगे।

कम्युनिटी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म 'लोकलसर्किल्स' द्वारा कराए गए इस सर्वे में चार प्रश्नों पर करीब 32 हजार लोगों ने जवाब दिए। धार्मिक स्थल जाने के सवाल पर 8,681 लोगों ने जवाब दिए। इनमें से 57 फीसद ने कहा कि वे अगले 30 दिनों तक इन स्थलों पर जाने से परहेज करेंगे क्योंकि वहां शारीरिक दूरी का पालन मुश्किल है। 32 फीसद ने जाने की बात कही, जबकि 11 फीसद ने कहा कि वे अभी निश्चित नहीं हैं।

होटल जाने के सवाल का 8,616 लोगों ने जवाब दिया। 81 फीसद ने कहा कि वे कम से कम एक महीने होटल जाने से बचेंगे, जबकि 11 फीसद ने कहा कि उन्हें जाने में कोई परेशानी नहीं है।

रेस्टोरेंट जानें में करेंगे परहेज

रेस्टोरेंट जाने के प्रश्न का 8,459 लोगों ने उत्तर दिया। 74 फीसद ने कहा कि वे अगले एक महीने तक अपने पसंदीदा रेस्टोरेंट में जाने से परहेज करेंगे। मॉल जाने के सवाल का 8,354 लोगों ने जवाब दिया। 70 फीसद ने नहीं जाने की बात कही, जबकि 21 फीसद ने कहा कि वे जाएंगे। नौ फीसद इस सवाल पर निश्चित नहीं थे।

'लोकलसर्किल्स' के महाप्रबंधक अक्षय गुप्ता ने कहा कि लोग अपने परिवार को संक्रमण से सुरक्षित रखना चाहते हैं इसलिए वे बाहर जाने के बजाय चीजों की आपूर्ति अपने घरों पर चाहते हैं।

आठ जून से खुलेंगे धार्मिक स्थल

बता दें कि कोरोना संक्रमण की वजह से करीब ढाई माह से बंद धर्मस्थल-पूजा स्थल सोमवार से खुलने जा रहे हैं। अब अचानक श्रद्धालुओं की भीड़ न उमड़ पड़े और संक्रमण फैलने का खतरा खड़ा न हो। इसके लिए केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के आधार पर सभी राज्यों की ओर से शनिवार को गाइडलाइन जारी की गई हैं।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस