बर्लिन, एएनआइ। महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 125वीं जयंती है। इस शुभ अवसर पर भारत ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी अनीता बोस फाफ की जर्मनी में रात्रिभोज के लिए मेजबानी की है। इस बात की जानकारी जर्मनी में भारत के दूतावास ने ट्विटर के जरिए दी, इसमें उन्होंने बताया कि इस अवसर पर डा अनीता बोस फाफ ने अतिथि पुस्तक 'जयहिंद' पर भी हस्ताक्षर किए।

डा अनीता बोस फाफ

देशभर में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाई जा रही है। प्रत्येक भारतीय को राष्ट्र के लिए नेताजी के महत्वपूर्ण योगदानों को याद कर रहा है। जहां देश के अलग-अलग स्थानों पर नेताजी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की जा रही है। वहीं अम्बहरीश पार्वथनेनी, जर्मनी में भारतीय दूतावास ने ट्विटर पर एक महत्वपूर्ण बात साझा की है। उन्होंने बताया कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती और पराक्रम दिवस की पूर्व संध्या पर इंडिया हाउस में नेताजी की बेटी अनीता बोस फाफ को रात के भोजन के लिए आमंत्रित किया गया। इस भोज को और खास बनाते हुए भारत की प्रवासी डा बोस फाफ ने अतिथि पुस्तक जय हिंद पर हस्ताक्षर किया।‌

महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस

महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस का 23 जनवरी, 1897 को जन्म हुआ था। नेताजी ने भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। नेताजी ने धैर्य, साहस, ज्ञान के धनी थे उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम में अतुलनीय योगदान दिया था ‌आपको बता दें कि सुभाष चंद्र बोस ने आजाद हिंद फौज की भी स्थापना की थी।

भारत में स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस के विशाल व्यक्तित्व व उनकी जयंती को शामिल करते हुए 24 जनवरी की बजाय 23 जनवरी से गणतंत्र दिवस समारोह की शुरुआत की गई है।

इसके साथ ही महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 125वीं जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट पर उनकी होलोग्राम प्रतिमा का शाम 6:00 बजे अनावरण करेंगे। 

Edited By: Ashisha Rajput