नई दिल्ली, एजेंसियां: रूस के डिप्टी पीएम और उद्योग एवं व्यापार मंत्री डेनिस मंटुरोव से राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने मुलाकात की। रूसी सरकार ने जानकारी दी कि उन्होंने व्यापार, आर्थिक, वैज्ञानिक, तकनीकी और सांस्कृतिक सहयोग के लिए अंतर-सरकारी रूसी-भारतीय आयोग के रूसी हिस्से के अध्यक्ष के रूप में बैठक में भाग लिया।

रूसी सरकार ने बताया कि दोनों ने व्यापार और आर्थिक संबंधों के विकास और आपसी हित के अन्य क्षेत्रों में सहयोग से संबंधित मौजूदा मुद्दों पर चर्चा की, जिसमें बाहरी अंतरिक्ष का शांतिपूर्ण उपयोग शामिल है। डेनिस मंटुरोव ने कहा, मुझे लगता है कि द्विपक्षीय सहयोग को मजबूत करने के लिए अंतर सरकारी आयोग के तंत्र का अधिकतम उपयोग करना महत्वपूर्ण है। उन्होंने स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ पर भारत को बधाई भी दी।

गौरतलब है कि, पिछले कुछ महीनों में भारत ने रूस से रियायती कच्चे तेल का आयात कई पश्चिमी देशों द्वारा आपत्ति उठाए जाने के बावजूद बढ़ाया है। रूस से भारत के कच्चे तेल का आयात अप्रैल के बाद से 50 गुना से अधिक बढ़ गया है और यह विदेशों से खरीदे गए कुल कच्चे तेल का 10 प्रतिशत है।

पिछले महीने, रूसी राजदूत डेनिस अलीपोव ने कहा था कि रूस बहुपक्षीय मंचों पर इसे अलग-थलग करने के प्रयासों का समर्थन नहीं करने के लिए भारत की सराहना करता है। दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार बढ़ रहा है। भारत ने अभी तक यूक्रेन पर रूसी आक्रमण की निंदा नहीं की है और भारत अपने रुख पर कायम रहा है कि कूटनीति और बातचीत के माध्यम से संकट का समाधान किया जाना चाहिए।

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल दो दिवसीय रूस दौरे पर थे। बुधवार को उन्होंने अपने रूसी समकक्ष निकोलाई पेत्रुशेव के साथ बातचीत की। इस दौरान उन्होंने द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर बातचीत की। रूस की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि दोनों पक्षों के बीच सुरक्षा के क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग पर भी चर्चा की गई।

Edited By: Amit Singh