नई दिल्ली, एजेंसी। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने उन मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज कर दिया है, जिसमें कहा जा रहा था कि 12 से 14 साल के आयु के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन जल्द शुरू हो सकता है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार, 12 से 14 साल के बच्चों के वैक्सीनेशन पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। बता दें कि कि देश में कोरोना की तीसरी लहर में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कोरोना के खिलाफ देश में 15 साल से ज्यादा की आयु वाले सभी लोगों को वैक्सीनेशन चल रहा है।

बता दें कि कई मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, भारत मे 12 से 18 साल के बच्चों को कोरोना की वैक्सीन देने की ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने मंजूरी दे दी है। भारत बायोटेक की कोवैक्सीन 12 से 18 साल के आयु वर्ग में दी जा सकती है। अभी 15 से 18 ऐज ग्रुप में यही वैक्सीन दी जा रही है इसके बाद 12 से 14 साल की उम्र के बच्चों का वैक्सीनेशन भी शुरू किया जा सकता है और इसके लिए वैक्सीन उपलब्ध कराई जा रही है। लेकिन मंत्रालय ने इस दावे को खारिज करते हुए कहा कि 12 से 14 साल के बच्चों के टीकाकरण पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से अभी कोई फैसला नहीं हुआ है।

अब तक 15-17 साल के 45 फीसद बच्चे पहली डोज के साथ वैक्सीनेटेड

देश में अब तक 15-17 साल के 3.31 करोड़ बच्चों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है। इसका मतलब, केवल 13 दिन में ही 45 फीसद बच्चे पहली डोज के साथ वैक्सीनेटेड हैं। 15-17 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन अभियान 3 जनवरी 2022 से शुरू हुआ था। इन्हें कोवैक्सिन लगाई जा रही है।

देश में अब तक 158 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन डोज दी जा चुकी

देश में अब तक 158 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन डोज दी जा चुकी हैं। पिछले 24 घंटों में 39 लाख से ज्यादा नए लोगों को वैक्सीन लगाई गई। वहीं देश के 76 फीसद लोग दूसरी खुराक के साथ वैक्सीनेटेड हैं।

Edited By: Sanjeev Tiwari