मुंबई, एएनआइ। PNB Fraud Case पंजाब नेशनल बैंक घोटाला मामले में देश छोड़कर भागे हीरा व्यापारी नीरव मोदी को आखिरकार भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित कर दिया गया है। जल्द ही उनकी संपत्तियां का जब्त करने का आदेश भी दिया जाएगा। पंजाब नेशनल बैंक के साथ लगभग 2 अरब डॉलर की हेराफेरी मामले में देश छोड़कर भाग चुके हीरा व्यापारी नीरव मोदी को गुरुवार को विशेष मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम कानून  (PMLA) कोर्ट ने पीएनबी घोटाला मामले में भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित कर दिया है। 

गौरतलब है कि पीएनबी घोटाले में आरोपी हीरा व्यापारी नीरव मोदी को 19 मार्च को होलबोर्न से गिरफ्तार किया गया था। नीरव और उसके चाचा मेहुल चोकसी के खिलाफ 13,500 करोड़ रुपये की हेराफेरी का आरोप है। इस मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआइ कर रही है। नीरव पर भगोड़े आर्थिक अपराधी अधिनियम के तहत भी आरोप लगाये गये हैं। 

पंजाब नेशनल बैंक में 11,300 करोड़ रुपए के इस घोटाले का पर्दाफाश 2018 की शुरुआत में हुआ था। करोड़ों की हेराफेरी के इस मामले में हीरा व्यापारी नीरव मोदी के अलावा उनकी पत्नी ऐमी, उनके भाई निशाल, और रिश्तेदार मेहुल चोकसी मुख्य अभियुक्त हैं। बैंक ने दावा किया है कि सभी अभियुक्तों ने बैंक अधिकारियों की मिलीभीगत से साजिश रच बैंक को नुकसान पहुंचाया है। 

पंजाब नेशनल बैंक ने पहली बार नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और उनके साथियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। इस शिकायत में उन पर 280 करोड़ रुपए की हेराफेरी का आरोप लगाया था। चौदह फरवरी को आंतरिक जांच पूरी होने के बाद पीएनबी ने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को इस फर्जीवाड़े की जानकारी दी थी। 

Maharashtra Politics: शिवसेना में बगावत शुरू, 400 कार्यकताओं ने छोड़ा पार्टी का साथ; भाजपा में हुए शामिल

 PNB घोटाले में नीरव मोदी भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित, जब्‍त की जाएंगी सारी संपत्तियां

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस