नई दिल्‍ली, एएनआइ। राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने 2017 के जम्मू-कश्मीर के लेथपोरा स्थित सीआरपीएफ कैंप पर आतंकी हमले के मामले में जैश-ए-मुहम्मद के एक आतंकी निसार अहमद तांत्रे को गिरफ्तार किया है। वह 1 फरवरी को संयुक्त अरब अमीरात से फरार हो गया था। भारत सरकार 31 मार्च को उसे भारत लेकर आई थी। यहां तांत्रे को एनआइए के सुपुर्द किया गया था।

जैश-ए-मुहम्‍मद का आतंकी तांत्रे जम्मू-कश्मीर के लेथपोरा स्थित सीआरपीएफ कैंप पर दिसंबर 2017 में हमले का मुख्य साजिशकर्ता है। 30-31 दिसंबर, 2017 की रात हुए इस आतंकी हमले में पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे। तब तीनों हमलावरों को मार गिराया गया था। इसके बाद से ही तांत्रे की तलाश की जा रही थी।

बताया जा रहा है कि तांत्रे जैश के दक्षिणी कश्मीर का डिविजनल कमांडर नूर तांत्रे का भाई है। तांत्रे को रविवार को विशेष विमान से दिल्ली लाया गया और यहां उसे एनआइ को सौंप दिया गया। एनआइए कोर्ट के विशेष न्‍यायाधीश ने तांत्रे के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था। इसके आधार पर उसे यूएआइ से भारत लेकर आया गया। माना जाता है कि तांत्रे ने घाटी में जैश को पांव जमाने में मदद की।

ये भी पढ़ें- पुलवामा हमले के बाद CRPF के काफिले को लेकर हुआ बदलाव, एसपी निगरानी में होगी यात्रा

Posted By: Tilak Raj

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस