कोच्चि, एजेंसियां। केरल सोना तस्करी की जांच कर रही एनआइए को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। केंद्रीय एजेंसी ने आरोपित स्वप्ना सुरेश से पूछताछ के बाद उसके दो बैंक लॉकरों से करीब एक करोड़ रुपये नकद व 982.5 ग्राम सोने के गहने जब्त किए हैं। एनआइए ने जब्त की गई सामग्री को शुक्रवार को विशेष अदालत के समक्ष पेश किया। उधर, अदालत ने स्वप्ना और संदीप नैयर को 21 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेजते हुए सीमा शुल्क विभाग को आरोपितों की औपचारिक गिरफ्तारी की इजाजत दे दी। एनआइए ने इंटरपोल से दुबई में रह रहे एक अन्य आरोपित के खिलाफ ब्ल्यू कॉर्नर नोटिस जारी करने का आग्रह किया है।

सहयोगियों के नाम बताए 

विशेष अदालत से स्वप्ना व संदीप को न्यायिक हिरासत में भेजने की मांग करते हुए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने बताया, 'स्वप्ना की निशानदेही पर 23 जुलाई को तिरुअनंतपुरम स्थित फेडरल बैंक शाखा के लॉकर से 36.5 लाख रुपये बरामद किए गए, जबकि एसबीआइ शाखा के लॉकर से 64 लाख रुपये नकद व 982.5 ग्राम सोने के गहने बरामद किए गए।' एनआइए ने कोर्ट को यह भी बताया कि स्वप्ना ने सोना तस्करी मामले में शामिल अपने सहयोगियों के भी नाम बताए हैं। उनकी भूमिका की जांच की जा रही है। 

स्वप्ना की जमानत अर्जी स्‍थगित 

केंद्रीय एजेंसी ने कोर्ट में एक बार फिर कहा कि आरोपितों से पूछताछ में यह बात सामने आई है कि उन्होंने देश की अर्थव्यवस्था को कमजोर करने के लिए बड़े पैमाने पर विदेश से सोना तस्करी की। अपराध की इस काली कमाई का उपयोग देश में हिंसक वारदातों को अंजाम देने के लिए किया जाने वाला था। इस दौरान कोर्ट ने आरोपित स्वप्ना की जमानत अर्जी पर सुनवाई 29 जुलाई तक के लिए स्थगित कर दी।

पूर्व प्रधान सचिव से एनआइए फिर करेगी पूछताछ

एनआइए ने सोना तस्करी मामले में मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के पूर्व प्रधान सचिव एम. शिवशंकर को नोटिस जारी करके सोमवार को कोच्चि दफ्तर में उपस्थित होने को कहा है। केंद्रीय एजेंसी निलंबित वरिष्ठ आइएएस अधिकारी शिवशंकर से गुरुवार को भी करीब पांच घंटे पूछताछ कर चुकी है। इससे पहले सीमा शुल्क विभाग उनसे करीब नौ घंटे पूछताछ कर चुका है।

विधायक एक अगस्त को करेंगे उपवास

कांग्रेस नीत यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) के सांसद व विधायक एक अगस्त को एक दिन के उपवास पर रहेंगे। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रमेश चेन्निथला ने तिरुअनंतपुरम में मीडिया से कहा कि इस अवसर पर राज्य की 'भ्रष्ट वामपंथी सरकार' के खिलाफ 'स्पीकअप केरल' अभियान का भी आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सीएम विजयन सोना तस्करी मामले में अपने कार्यालय की भूमिका को छिपाने के लिए गलतबयानी कर रहे हैं। हालांकि, राज्य के विधि मंत्री एके बलान ने कहा कि सरकार किसी भी प्रकार की जांच का सामना करने के लिए तैयार है।

क्‍या है मामला 

सीमा शुल्क विभाग ने पांच जुलाई को करीब 15 करोड़ रुपये के 30 किलोग्राम सोने की तस्करी का पर्दाफाश किया था। इस मामले में अब तक सारिथ, स्वप्ना व संदीप समेत करीब 16 आरोपितों की गिरफ्तारी हो चुकी है। सोना संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के महावाणिज्य दूत के नाम पर एयर कार्गो में छिपाकर भेजा गया था। तस्करी में सूचना एवं प्रौद्योगिकी (आइटी) विभाग कर्मी स्वप्ना का नाम आने और उससे संबंध जाहिर होने पर शिवशंकर को निलंबित किया जा चुका है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस