Move to Jagran APP

बस दो दिन का इंतजार, 10 नवंबर को लांच होंगे नए नोट

सरकार ने 500 और 1000 के नोट बंद कर दिये हैं, लेकिन आपको इससे घबराने की जरुरत नहीं है।

By kishor joshiEdited By: Published: Wed, 09 Nov 2016 06:52 AM (IST)Updated: Wed, 09 Nov 2016 07:24 AM (IST)

हरिकिशन शर्मा, नई दिल्ली। पांच सौ और एक हजार रुपये के नोट बंद होने की खबर सुनकर आपको घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार वृहस्पतिवार को 500 रुपये और 2000 रुपये के नए नोट लांच कर रही है। ये नोट न सिर्फ नए सुरक्षा मानकों से लैस होंगे बल्कि ये ब्रेल लिपि युक्त होंगे ताकि दृष्टिहीन व्यक्ति भी नए नोटों को पहचान सकें।

loksabha election banner

इसके अलावा चैक से लेकर इलेक्ट्रॉनिक माध्यम सहित कई ऐसे तरीके हैं जिनके माध्यम से आप अपना लेन-देन कर सकेंगे। इसके बावजूद अगर आपको कोई परेशानी होती है तो आप वित्त मंत्रालय या रिजर्व बैंक के कंट्रोल रूम में फोन कर सहायता ले सकते हैं।

तस्वीरें: नए 500 और 2000 रुपये के नोट की खासियत जान रह जाएंगे दंग

पीएम मोदी का काले धन बड़ा एलान: 16 सवालों में समझें पूरा मामला

इस बीच सरकार ने आम लोगों से यह अपील भी कि है कि वे किसी और के 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बैंक में बदलने से लाने से बचें क्योंकि जो भी व्यक्ति बैंक में नोट बदलने जाएगा उसका पहचान पत्र लिया जाएगा।

मोदी सरकार के नए नोटों के पीछे है इस शख्स का दिमाग !

पढ़ें- आजादी के बाद काले धन के खिलाफ सबसे बड़ा कदम, 500-1000 के नोट बंद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन में 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट बंद करने की घोषणा के बाद वित्त मंत्रालय के आर्थिक कार्य विभाग के सचिव शक्तिकांत दास और रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने आनन-फानन में बुलाए संवाददाता सम्मेलन में कहा कि 500 रुपये और 2000 रुपये के नए नोट 10 नवंबर को लांच किए जाऐंगे। उन्होंने कहा कि बुधवार को बैंक बंद रहेगा। आरबीआइ गवर्नर ने आश्र्वस्त किया कि जल्द ही नए नोट सिस्टम में उपलब्ध होंगे।

पढ़ें- 500-1000 के नोट बंद: जानिए आपके मन में उठ रहे इन सवालों के जवाब

दास ने संवाददाताओं से कहा कि सरकार ने 500 रुपये और 1000 रुपये के पुराने नोट बंद करने के फैसले के बारे में राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों को भी सूचित कर दिया है ताकि इस निर्णय को सुचारु ढंग से अमल में लाया जा सके। एक सवाल के जवाब में दास ने कहा कि जो भी लोग पुराने नोट बदलने के लिए बैंकों के पास जाएंगे उनकी पहचान रिकार्ड की जाएगी। साथ ही बैंक यह सूचना आयकर विभाग को भी देंगे। दास ने कहा कि कालेधन और आतंकी फाइेंशिंग पर कड़ा प्रहार करते हुए सरकार ने यह सशक्त, साहसिक और निर्णायक फैसला किया है।

दास ने यह भी कहा कि 10 रुपये, 20 रुपये, 50 रुपये, 100 रुपये के नोट जारी रहेंगे और आगे चलकर 1,000 रुपये के नए नोट भी लांच किए जा सकते हैं।

सरकार ने लोगों की सुविधा के लिए शुरु किए कंट्रोल रूम

  • मुंबई में आरबीआई के कंट्रोल रूम का नंबर 022-22602201, 022-22602944
  • दिल्ली में वित्त मंत्रालय के कंट्रोल रूप का नंबर है 011-23093230

खास बातें:

  • फिलहाल 16.5 अरब थे देश में 500 रुपये के नोट
  • 6.7 अरब थे 1000 रुपये के नोट

क्यों किया 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट को बंद?

  • वर्ष 2011 से 2016 के दौरान देश में सभी प्रकार के रुपये नोट की संख्या में 40 प्रतिशत वृद्धि हुई।
  • 2011 से 2016 के बीच 500 रुपये के नोट की संख्या में 76 प्रतिशत वृद्धि हुई।
  • 2011 से 2016 के दौरान 1000 रुपये के नोट में 109 प्रतिशत वृद्धि हुई।
  • -इस अवधि में अर्थव्यवस्था में मात्र 30 प्रतिशत वृद्धि हुई।

घबराइए मत आपके पास हैं ट्रांजेक्शन के ये विकल्प

  • चैक और ऑनलाइन कर सकेंगे भुगतान
  • पेटीएम जैसे वालेट से कर सकेंगे लेन-देन

Photos: 500-1000 के नोट बंद होने से ATM के बाहर अफरा-तफरी का माहौल


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.