नई दिल्‍ली, जेएनएन। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली जल्‍द ही पीएम नरेंद्र मोदी को 'बिबाह पंचमी' के लिए आमंत्रित करेंगे। बिबाह पंचमी के दौरान अयोध्‍या से जनकपुर तक जुलूस (बरात) निकाला जाता है। इस समारोह को नेपाल में 'राम जानकी बिबाह' भी कहा जाता है। पीएम ओली के मुख्‍य सलाहकार बिशनू रीमल ने इस बात की जानकारी दी।

पीएम के सलाहकार ने बताया कि नेपाल की ओर से पीएम मोदी को राम जानकी बिबाह पंचमी के लिए जनकपुर में आमंत्रित किया जाएगा। उन्‍होंने बताया, 'इस समारोह के बारे में दोनों राष्‍ट्राध्‍यक्ष पहले ही बातचीत कर चुके हैं। अब जल्‍द ही पीएम ओली, भारत के प्रधानमंत्री को इस समारोह के लिए पत्र भेज आमंत्रित करेंगे।' रिमला ने बताया कि ओली भारतीय प्रधानमंत्री मोदी को प्रतीकात्मक विवाह समारोह में आमंत्रित करने के लिए पत्र भेजेंगे। पीएम मोदी के दौरे को लेकर चर्चा और तैयारियां शुरू हो गई हैं। हालांकि अभी इसकी पुष्टि होना बाकी है।

पीएम मोदी और नेपाल के प्रधानमंत्री पिछले दिनों अगस्‍त में बिम्सटेक सम्‍मेलन के दौरान मिले थे। इस मुलाकात के दौरान ही बिबाह पंचमी के कार्यक्रम को लेकर सबकुछ तय हो गया था। बिबाह पंचमी समारोह 12 दिसंबर को होगा। इस दौरान मोदी और ओली 'जनकपुर-जयानगर' रेलवे लाइन का भी उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी राम के जन्‍मस्‍थल अयोध्‍या से बारात लेकर चलेंगे। ये बारात जनकपुर जाएगी, जो माता सीता का जन्‍मस्‍थल है। धार्मिक ग्रंथ रामायण के अनुसार राम-सीता विवाह जनकपुर में ही संपन्‍न हुआ था।

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप