नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। दिल्ली से सटे यूपी के गाजियाबाद में सदरपुर गांव के पास ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर गुरुवार को इंडियन एयरफोर्स ने चार्टर्ड विमान की सफल इमरजेंसी लैंडिंग कराई। यह पहला मौका नहीं है कि जब किसी विमान की इस तरह इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई हो। इससे पहले आगरा लखनऊ एक्सप्रेस-वे और गौतमबुद्धनगर से आगरा तक बने यमुना एक्सप्रेस-वे (Yamuna Expressway) पर भी विमानों की इमरजेंसी लैंडिंग कराई जा चुकी है। वर्ष, 2017 में उत्तर प्रदेश बने अत्याधुनिक आगरा-लखनऊ एक्सप्रे-वे पर भारतीय वायु सेना ने दो बार टच ऑपरेशन किया था। इससे भी पहले एयरफोर्स के फाइटर प्लेन्स का टच एंड गो सफल ऑपरेशन किया गया था। 

जानिए- क्या है रिहर्सल का मकसद

इसके पीछे बड़ी वजह है कि इन एक्सप्रेस-वे को विमान पट्टी के रूप में विकसित किया जा रहा है, जिससे भविष्य में आपात स्थिति में जरूरत पड़ने पर यहां पर विमान उतारे जा सकें। बता दें कि देश में 21 मई, 2015 को सड़क मार्ग को रन-वे के रूप में इस्तेमाल हो चुका है।

20 से अधिक एक्सप्रेस-वे हैं इमरजेंसी लैंडिंग के लायक

बताया जा रहा है कि देशभर के 22 चर्चित एक्सप्रेस-वे पर विमानों की इमरजेंसी लैंडिंग का रिहर्सल की जाएगी। इसी कड़ी में भविष्य में बनने जा रहे लखनऊ-बलिया एक्सप्रेस-वे पर भी विमान उतारे जाएंगे। पिछले दो साल पहले ही एलान हुआ था कि इन ड्रिल को मिलाकर एयर फोर्स देश के 22 चर्चित एक्सप्रेस वे पर इसी तरह का ड्रिल करने वाली है।

यहां उतारे गए या उतारे जा सकते हैं विमान

  • गौतमबुद्धनगर के ग्रेटर नोएडा से आगरा तक के यमुना एक्सप्रेस-वे पर लड़ाकू विमान उतारने की प्रैक्टिस/रिहर्सल हो चुकी है। इन 22 एक्सप्रेस-वे में यमुना एक्सप्रेस-वे पहले से ही शामिल है
  • इन 22 एक्सप्रेस-वे में मुरादाबाद एक्सप्रेस-वे का भी नाम है, जहां पर विमान उतारे जाने की रिहर्सल होगी।

इन राज्यों में बने एक्सप्रेस-वे पर भी होगी रिहर्सल

  • छत्तीसगढ़
  • ओडिशा
  • जम्मू
  • उत्तराखंड
  • उत्तर प्रदेश
  • गुजरात
  • पश्चिम बंगाल
  • असम
  • आंध्र प्रदेश
  • तमिलनाडु
  • राजस्थान

बता दें कि परिवहन मंत्रालय इस योजना को दो साल से अधिक पहले शामिल कर चुका है। 

इन देशों में हो चुकी है एक्सप्रेस-वे पर इमरजेंसी लैंडिंग

  • सिंगापुर
  • स्वीडन
  • फिनलैंड
  • जर्मनी
  • पोलैंड
  • ताइवान

युद्ध या अन्य आपात स्थिति में होता है लाभ

एक्सप्रेस-वे को रन-वे की तरह इस्तेमाल करने की स्थिति तब आती है, जब युद्ध हो या फिर अन्य आपात स्थिति। दरअसल, ऐसी परिस्थितियों में एक्सप्रेस-वे को रन-वे की तरह प्रयोग में लाया जाता है। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस