नई दिल्ली, एएनआइ। देश में कोरोना वायरस के खतरे और लॉकडाउन के बीच लोगों की मदद के लिए राष्ट्रीय कैडेट कोर भी सामने आया है। रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को घोषणा की कि राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) ने कोरना वायरस के खिलाफ लड़ाई में नागरिकों के मदद की पेशकश की है।

रक्षा मंत्रालय के मुताबिक एनसीसी ने अपने कैडेटों को दिशानिर्देश जारी कर कोरोना वायरस महामारी से निपटने में शामिल विभिन्न एजेंसियों के साथ मिलकर राहत कार्यों में सहयोग करने को कहा है। मंत्रालय की एक विज्ञप्ति के अनुसार एनसीसी ने 'एक्सरसाइज एनसीसी योगदान' के तहत कैडेटों की सेवाओं का विस्तार किया है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि 18 साल से अधिक उम्र के केवल वरिष्ठ मंडल के स्वयंसेवक कैडेटों को नियुक्त किया जाएगा। उन्हें स्थायी प्रशिक्षक स्टाफ या एसोसिएट एनसीसी अधिकारी की देखरेख में आठ से 20 तक के छोटे समूहों में नियुक्त किया जाना चाहिए।                                                                                       

एनसीसी कैडेट के कार्यों में हेल्पलाइन और कॉल सेंटर को मैनेज करना- राहत सामग्री, दवाओं, भोजन और आवश्यक वस्तुओं का वितरण- सामुदायिक सहायता- डेटा प्रबंधन और यातायात प्रबंधन शामिल है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 12 घंटे में देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के 131 नए मामले सामने आए हैं। देश में संक्रमित लोगों का आंकड़ा बढ़कर 1965 पहुंच गया है। इसमें से 151 लोग ठीक हो चुके हैं। जबकि अब तक 50 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें- Coronavirus India: देश में तेजी से पैर पसार रही महामारी, 12 घंटे में 131 को हुआ कोरोना

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस