भोपाल, स्टेट ब्यूरो। मध्य प्रदेश की कमल नाथ सरकार में भाजपा नेताओं से भिड़ने वाले अफसरों के खिलाफ शिवराज सरकार ने कार्रवाई शुरू कर दी है। राजगढ़ में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में रैली के दौरान भाजपा नेताओं से हाथापाई करने वाली कलेक्टर निधि निवेदिता और रीवा के नगर निगम कमिश्नर सभाजीत यादव को मंगलवार को हटाकर मंत्रालय में पदस्थ कर दिया।

2012 बैच के आईएएस अफसर नीरज कुमार सिंह को राजगढ़ कलेक्टर बनाया गया है। सिंह अब तक संचालक बजट थे। वहीं, रीवा नगर निगम कमिश्नर का अतिरिक्त प्रभार जिला पंचायत रीवा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अर्पित वर्मा को दिया है। विवादों में रहे हैं दोनों अफसर राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता ने नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में भाजपा द्वारा निकाली गई रैली में पार्टी के मीडिया प्रभारी को थप्पड़ मार दिया था। इसके बाद उन्होंने ब्यावरा में एक असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर को थप्पड़ मारा।

इसकी जांच दो वरिष्ठ अधिकारियों से करवाई गई और सरकार ने मामले को रफा-दफा कर दिया। इसी तरह रीवा कमिश्नर सभाजीत यादव ने पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल के खिलाफ सीधा मोर्चा खोला। उन्हें पांच करोड़ रपये की वसूली का नोटिस थमाए और फिर पत्र भी लिखा, जिसमें शिवराज सिंह चौहान के बारे में भी आधारहीन बातें की थी।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस