Move to Jagran APP

पढ़ने के लिए 2017-22 के दौरान 30 लाख से अधिक भारतीय गए विदेश, शिक्षा मंत्रालय ने दी जानकारी

उच्च शिक्षा के लिए 30 लाख से अधिक भारतीय विदेश गए। देश भर के केंद्रीय विद्यालयों नवोदय विद्यालयों और केंद्रीय उच्च शिक्षा संस्थानों में 58000 से अधिक शिक्षक और गैर-शिक्षक पद खाली हैं। जबकि देश में अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय स्थापित करने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

By AgencyEdited By: Shashank MishraPublished: Mon, 06 Feb 2023 08:21 PM (IST)Updated: Mon, 06 Feb 2023 08:21 PM (IST)
उच्च शिक्षा के लिए 30 लाख से अधिक भारतीय विदेश गए।

नई दिल्ली, पीटीआई। केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष सरकार ने सोमवार को लोकसभा में लिखित उत्तर में बताया कि 2017-2022 के दौरान उच्च शिक्षा के लिए 30 लाख से अधिक भारतीय विदेश गए। मंत्री ने यह भी बताया कि फिलहाल देश में अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय स्थापित करने का कोई प्रस्ताव नहीं है। हालांकि, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने भारत में विदेशी उच्च शिक्षा संस्थानों के परिसरों की स्थापना के लिए मसौदा तैयार किया है।

58,000 से अधिक शिक्षक और गैर-शिक्षक पद खाली

शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष सरकार ने लोकसभा में एक प्रश्न के उत्तर में बताया कि देश भर के केंद्रीय विद्यालयों, नवोदय विद्यालयों और केंद्रीय उच्च शिक्षा संस्थानों में 58,000 से अधिक शिक्षक और गैर-शिक्षक पद खाली हैं। इनमें से केंद्रीय विद्यालयों में शिक्षकों के 12,099 और 1,312 गैर-शिक्षक पद खाली हैं। जवाहर नवोदय विद्यालयों में शिक्षकों के 3271 पद खाली हैं। इनमें रिक्त गैर शिक्षक पदों की संख्या 1756 है। केंद्रीय विश्वविद्यालयों में शिक्षकों के 6,180 पद और 15,798 गैर-शिक्षक पद भरे जाने बाकी हैं।

पीएम की परीक्षा पर चर्चा के पांच संस्करणों पर 28 करोड़ से अधिक खर्च

केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री अन्नपूर्णा देवी ने लोकसभा में प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की 'परीक्षा पर चर्चा' के पांच संस्करणों पर 28 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए गए हैं। 'परीक्षा पर चर्चा' के पहले संस्करण में 2018 में 3.67 करोड़ रुपये, 2019 में 4.93 करोड़ रुपये, 2020 में 5.69 करोड़ रुपये, 2021 में छह करोड़ रुपये और 2022 में 8.61 करोड़ रुपये खर्च किए गए थे। इस वर्ष आयोजन पर हुए खर्च का विवरण नहीं दिया गया। 'परीक्षा पर चर्चा' एक वार्षिक कार्यक्रम है जहां प्रधानमंत्री बोर्ड परीक्षाओं में बैठने वाले छात्रों के साथ बातचीत करते हैं।

यह भी पढ़ें- Fact Check: पाकिस्तान में पेट्रोल पंप पर लगी आग का करीब 3 साल पुराना वीडियो हालिया आर्थिक संकट के नाम पर वायरल

यह भी पढ़ें- आईएआरसी का आकलन 2040 तक भारत समेत एशिया में 59% बढ़ेंगे कैंसर के नए मरीज, संतुलित भारतीय खाना कम करेगा खतरा


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.