नई दिल्ली, प्रेट्र। भारत द्वारा ब्रिटेन और जर्मनी के लिए स्थापित फास्ट ट्रैक सिस्टम की सफलता को देखते हुए कई और यूरोपीय देशों ने इस नई व्यवस्था में रुचि दिखाई है। यह व्यवस्था भारत में कारोबार वाली कंपनियों और निवेशकों की समस्याओं की पहचान और निराकरण में मदद करती है।

भारत ने ब्रिटेन और जर्मनी के साथ इस तरह की व्यवस्था स्थापित की हुई है। इन दोनों देशों के लिए भारत का फास्ट ट्रैक सिस्टम अलग-अलग है। इटली और हॉलैंड के साथ भी इस सिस्टम को स्थापित करने की प्रक्रिया चल रही है। ये यूरोपीय देश भी अपने यहां इसी तरह की प्रणाली स्थापित करेंगे, ताकि इन देशों में निवेश वाली भारतीय कंपनियों की समस्याओं का निराकरण किया जा सके।

एक अधिकारी ने कहा कि इस सिस्टम की सफलता को देखते हुए, अब हमें भारत में बड़े निवेश वाले अन्य यूरोपीय देशों से भी इस व्यवस्था को स्थापित करने के लिए अनुरोध मिल रहे हैं। यह सिस्टम भारत में वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय तथा संबंधित देशों के समकक्ष विभागों में स्थापित किया जाता है।

Posted By: Arun Kumar Singh