Move to Jagran APP

केंद्र के कई अधिकारियों-कर्मचारियों को मिला संदिग्ध ईमेल, तत्काल कार्रवाई की मांग

मंगलवार को केंद्र सरकार के कई अधिकारियों-कर्मचारियों को एक संदिग्ध ईमेल मिला जिसके बाद उनका प्रतिनिधित्व करने वाले एक संगठन ने मामले की जांच की मांग की। विभिन्न मंत्रालयों में कार्यरत केंद्रीय सचिवालय सेवा (सीएसएस) के अधिकारियों को भेजे गए ईमेल में उनसे एक लिंक पर क्लिक करने के लिए कहा गया था ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उनके आधिकारिक मेल खाते कैंसिल नहीं किए गए हैं।

By Jagran News Edited By: Jeet Kumar Wed, 10 Jul 2024 01:43 AM (IST)
केंद्र के कई अधिकारियों-कर्मचारियों को मिला संदिग्ध ईमेल, तत्काल कार्रवाई की मांग
केंद्र के कई अधिकारियों-कर्मचारियों को मिला संदिग्ध ईमेल

 पीटीआई, नई दिल्ली। मंगलवार को केंद्र सरकार के कई अधिकारियों-कर्मचारियों को एक संदिग्ध ईमेल मिला, जिसके बाद उनका प्रतिनिधित्व करने वाले एक संगठन ने मामले की जांच की मांग की।

विभिन्न मंत्रालयों में कार्यरत केंद्रीय सचिवालय सेवा (सीएसएस) के अधिकारियों को भेजे गए ईमेल में उनसे एक लिंक पर क्लिक करने के लिए कहा गया था ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उनके आधिकारिक मेल खाते कैंसिल नहीं किए गए हैं।

सीएसएस अधिकारियों के संगठन सीएसएस फोरम ने एक्स पर पोस्ट किया कि सीएसएस अधिकारी केंद्रीय सचिवालय की रीढ़ हैं। फोरम ने राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय से इस मुद्दे पर गौर करने को कहा।

सीएसएस फोरम के महासचिव आशुतोष मिश्रा ने कहा कि इस संदिग्ध फिशिंग हमले की गहन जांच की जानी चाहिए और साथ ही उन्होंने अधिकारियों से सतर्क रहने को कहा। उन्होंने कहा कि चूंकि केंद्रीय सचिवालय का पूरा काम अब ऑनलाइन है, इसलिए ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि हमारे संचार की सुरक्षा अत्यंत महत्वपूर्ण है।