नई दिल्ली, जेएनएन। मलेशिया (Malaysia) के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद (Mahathir Mohamad) को संयुक्त राष्ट्र (UN) में कश्मीर मुद्दे का जिक्र करना भारी पड़ गया है। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि भारत ने यूएन रेजॉलूशन के बाद भी कश्मीर (Kashmir) पर जबरन कब्जा कर लिया है। महातिर मोहम्मद के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर भारतीय यूजर्स ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

मलेशियाई पीएम महातिर मोहम्मद ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र में अपने भाषण दिया। इसके बाद उन्होंने उससे जुड़े कई ट्वीट किए, जिसमे से एक कश्मीर को लेकर था। कश्मीर का जिक्र करते हुए उन्होंने ट्वीट किया कि दुनिया म्यांमार में रोहिंग्याओं पर हो रहे अत्याचारों को रोकने में नाकाम रही, जिसके कारण यूएन रेजॉलूशन के सम्मान में कमी आई है। अब, जम्मू और कश्मीर पर यूएन रेजॉलूशन के बाद भी, देश (भारत) ने इस पर जबरन कब्जा जमा लिया है।

कश्मीर पर एक और ट्वीट में उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में कुछ परेशानी हो सकती है, लेकिन इसका समाधान शांतिपूर्ण तरीके से होना चाहिए। भारत और पाकिस्तान को मिलकर इसका समाधान ढूंढ़ना चाहिए।

मलेशियाई प्रधानमंत्री के ट्वीट के बाद यूजर्स ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। यही नहीं ट्विटर पर मलेशिया ट्रेंड भी कर रहा है। कई यूजर्स हैशटैग बायकॉट मलेशिया का भी प्रयोग कर रहे हैं। 

कुछ यूजर्स ने मलेशिया को अपने पर्यटन लिस्ट से हटाने की अपील की है।

एक यूजर ने लिखा कि अब आप समझ सकते हैं कि जाकिर नाइक ने रहने के लिए मलेशिया को क्यों चुना।

दूसरे यूजर ने लिखा कि मलेशिया जाने की योजना बना रहा था, लेकिन अब दोबारा विचार करना पड़ेगा।

मलेशियाई प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने युद्धों को रोकने में संयुक्त राष्ट्र के विफल रहने का जिक्र करते हुए सुरक्षा परिषद में शामिल देशों की आलोचला करते हुए कहा कि उन्होंने एक तरह से खुद को दुनिया पर शासन का अधिकार दे दिया है।

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप