नई दिल्ली, एजेंसियां। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ब्रिटेन में आयोजित 'इंडिया ग्लोबल वीक 2020' में उद्घाटन भाषण देते हुए कहा कि कोरोना वायरस (COVID-19) वैक्सीन विकसित करने में भारत की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। पीएम मोदी ने इसे लेकर कहा, ' मुझे उम्मीद है कि कोरोना वैक्सीन मिलने के बाद इसके उत्पादन और विकास में भारत की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।' उन्होंने कहा कि भारत में बने टीके दुनियाभर के बच्चों के लिए वैक्सीन की दो-तिहाई जरूरत को पूरा करते हैं। कोरोना काल में यह पहली बार पीएम मोदी ने वैश्विक समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि आज हमारी कंपनियां कोरोना वैक्सीन के विकास और उत्पादन के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रयासों में सक्रिय हैं।

इससे पहले पीएम मोदी ने कहा कि महामारी ने एक बार फिर दिखाया है कि भारत का फार्मा उद्योग न केवल भारत के लिए बल्कि पूरे विश्व के लिए एक संपत्ति है। इसने दवाओं की लागत को खासकर विकासशील देशों के लिए कम करने में अग्रणी भूमिका निभाई है। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय स्वाभाविक सुधारक हैं। इतिहास बताता है कि भारत ने हर चुनौती को पार किया है चाहे वह सामाजिक हो या आर्थिक।

LIVE PM Modi speech in India Global Week 2020 

भारत वैश्विक महामारी के खिलाफ मजबूती से लड़ाई लड़ रहा

पीएम मोदी ने इस दौरान यह भी कहा कि भारत वैश्विक महामारी के खिलाफ मजबूती से लड़ाई लड़ रहा है। लोगों के स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित करने के साथ, हम अर्थव्यवस्था समान रूप से ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। पीएम मोदी ने यह भी कहा कि भारत दुनिया की सबसे खुली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। हम भारत में आने और अपनी उपस्थिति स्थापित करने के लिए सभी वैश्विक कंपनियों के लिए रेड कार्पेट बिछाए हुए है। बहुत कम देश ऐसा अवसर प्रदान करेंगे, जैसा आज भारत कर रहा है।

हमारी अर्थव्यवस्था में सुधार दिखने लगा है

पीएम मोदी ने कहा कि जब भारत पुनरुद्धार की बात करता है तो उसके लिए देखभाल के साथ पुनरुद्धार, करुणा के साथ पुनरुद्धार और पर्यावरण और अर्थव्यवस्था दोनों के लिए टिकाऊ पुनरुद्धार मायने रखता है। यही कारण है कि हमारी अर्थव्यवस्था में सुधार दिखने लगा है। 

वैश्विक पुनरुत्थान की कहानी में भारत की अग्रणी भूमिका होगी

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि इस समय में, पुनरुत्थान के बारे में बात करना स्वाभाविक है। वैश्विक पुनरुद्धार से भारत को जोड़ना भी उतना ही स्वाभाविक है। इस बात पर विश्वास है कि वैश्विक पुनरुत्थान की कहानी में भारत की अग्रणी भूमिका होगी। पीएम मोदी ने इस दौरान कहा, 'दुनिया भर में, आपने भारत की प्रतिभा के योगदान को देखा है। भारतीय टेक उद्योग और तकनीकी पेशेवरों को कौन भूल सकता है। वे दशकों से रास्ता दिखा रहे हैं। भारत प्रतिभा का एक शक्ति-घर है, जो योगदान देने के लिए उत्सुक है। 

सम्मलेन को 75 सत्रों में 250 वैश्विक वक्ता संबोधित करेंगे

इससे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय ने प्रधानमंत्री के इस संबोधन को लेकर कहा था कि 'आत्म निर्भर भारत अभियान' का अनदेखा और बेहतरीन प्रदर्शन होगा। 'भारत और एक नया विश्व : पुनरोद्धार हो' विषय पर आयोजित इस तीन दिवसीय सम्मेलन में तीस देशों के पांच हजार लोग हिस्सा लेंगे। इस सम्मलेन को 75 सत्रों में 250 वैश्विक वक्ता संबोधित करेंगे। 

प्रधानमंत्री मोदी ने संबोधन को लेकर दी थी जानकारी

प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को ट्वीट करके कहा, 'इंडिया इंक ग्रुप की ओर से आयोजित इंडिया ग्लोबल वीक को गुरुवार को दोपहर 1.30 बजे संबोधित करेंगे। इस फोरम के जरिये विश्व के नेता और उद्योग जगत के दिग्गज एक मंच पर आएंगे। यहां कोरोना के बाद के बाद वैश्विक अर्थव्यवस्था की बहाली और भारत में इससे जुड़े अवसरों पर चर्चा होगी।' 

महामारी के मद्देनजर यह तीन दिवसीय कार्यक्रम ऑनलाइन आयोजित 

पीएमओ की ओर से जारी बयान के अनुसार कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर यह तीन दिवसीय कार्यक्रम ऑनलाइन मंच पर आयोजित किया जा रहा है, जिसमें विदेश मंत्री एस. जयशंकर, रेल मंत्री पीयूष गोयल, विमानन और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद और कौशल विकास मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय भारत की ओर से प्रमुख वक्ताओं में शामिल होंगे। ब्रिटेन की ओर से प्रिंस चा‌र्ल्स आयोजन में एक विशेष संबोधन देंगे। इनके अलावा विदेश मंत्री डोमिनिक राब, गृह मंत्री प्रीति पटेल, स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक और अंतरराष्ट्रीय व्यापार मंत्री लिज ट्रस संबोधित करेंगे।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस